महड़ौरा प्रधानपति हत्याकांड : पूर्व प्रधान का भाई गिरफ्तार, हत्या की रची थी साजिश 

महड़ौरा प्रधानपति हत्याकांड : पूर्व प्रधान का भाई गिरफ्तार, हत्या की रची थी साजिश 

चंदौली। बलुआ थाना क्षेत्र महड़ौरा गांव निवासी प्रधान पति नित्यानंद सिंह उर्फ पंकज की हत्या में शामिल पूर्व प्रधान मनोज यादव के भाई संतोष को बलुआ पुलिस ने गुरुवार की सुबह तिरगांवा बैरियर के पास पकड़ लिया। संतोष यादव ने ही पंकज की हत्या की साजिश रची थी। वही दो शूटरों को लेकर बाइक से घटनास्थल पर पहुंचा था। प्रधानपति के भाई अखिलानंद सिंह ने गांव के चार लोगों के खिलाफ नामजद और तीन अज्ञात शूटरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। इसमें पुलिस दो को गिरफ्तार कर चुकी है। 

एक जून को महड़ौरा गांव की प्रधान संगीता सिंह के पति नित्यानंद सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। प्रधानपति पूर्व प्रधान मनोज यादव की हत्या के आरोप में जेल में बंद थे। जमानत पर रिहा होकर फरवरी में घर आए थे। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में पत्नी को प्रधानी का चुनाव लड़ाया और जीताया। 

पूर्व प्रधान की पत्नी ममता भी प्रधानी की उम्मीदवार थी। चुनाव में हार से तिलमिलाए दूसरे पक्ष के लोगों ने पूर्व प्रधान की हत्या और चुनाव में हार का बदला लेने के लिए प्रधानपति की हत्या की साजिश रची। इसके लिए भाड़े के शूटर बुलाए गए थें। एक जून को भाई के साथ पंपिंग सेट पर गए प्रधानपति की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। 

प्रधानपति के भाई ने पूर्व प्रधान के भाई संतोष यादव, धर्मेंद्र यादव, परमेश्वर यादव व राजनारायण यादव के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस धर्मेंद्र यादव को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस टीम में एसओ उदयप्रताप सिंह, उपनिरीक्षक अवध बिहारी यादव, हेड कांस्टेबल प्रेम सिंह, अतुल सिंह, कांस्टेबल ओमकेश मौर्या, अभिषेक पाल व सूरज यादव शामिल रहे।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक  करें।

Share this story