चार दिवसीय डिस्लेक्सिया व एडीएचडी ट्रेनिंग का हुआ समापन, 62 ट्रेनरों को दिया गया सर्टिफिकेट

certificate

वाराणसी। रोहनिया के खुशीपुर स्थित अमरावती पुरुषोत्तम राजकीय दिव्यांग विकास संस्थान पर डिस्लेक्सिया व एडीएचडी से प्रभावित बच्चों की पहचान के लिए मास्टर ट्रेनर्स का चार दिवसीय 22 नवंबर से 25 नवंबर तक चल रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम का गुरुवार को समापन हुआ। 

certificate

इस दौरान रोहनिया सुरेंद्र नारायण सिंह ने प्रशिक्षण कार्यक्रम में  62 प्रशिक्षित शिक्षकों को प्रमाण पत्र वितरित किया गया। समापन समारोह में मुख्य अतिथि को पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया गया।

certificate

इस अवसर पर अपने स्वागत संबोधन में जिला दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी ने चार दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के उद्देश्य व भविष्य की कार्य योजना को स्पष्ट करते हुए समस्त प्रतिभागियों को सूचित किया  कि वे अपने कार्यरत विद्यालयों में अधिगम अक्षमता से प्रभावित बच्चों की पहचान करेंगे तथा इसकी रिपोर्ट जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के माध्यम से जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी को प्रेषित करेंगे। 

certificate

मुख्य अतिथि रोहनिया विधायक सुरेन्द्र नारायण सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि अधिगम अक्षमता से प्रभावित बच्चें भी हमारे भविष्य की धरोहर हैं। प्रशिक्षण प्राप्त शिक्षक ऐसे बच्चों को नियमित रूप से चिन्हांकित कर उन्हें शैक्षिक मुख्यधारा में निरंतर शामिल करते रहें। यह कार्य उनके लिए राष्ट्र के प्रति सच्ची सेवा होगी तथा वह अन्य अध्यापकों को भी प्रशिक्षण विषय से परिचय करा कर जागरूक बनाएं।
 
इस अवसर पर रोहनिया विधायक सुरेंद्र नारायण सिंह, जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी वाराणसी राजेश कुमार मिश्र,बचपन डे केयर सेंटर के समन्वयक रमेश सिंह, विशेष शिक्षक सौरभ सिंह,कमलेश कुमार,मनोज कुमार सिंह, अमरनाथ पटेल ,त्रिभुवन व अन्य लोग उपस्थित थे।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story