घटिया सड़क निर्माण कार्य देख भड़के कैंट विधायक सौरभ श्रीवास्तव, ठेकेदारों को ब्लैक लिस्ट करने को डीएम को लिखा पत्र

घटिया सड़क निर्माण कार्य देख भड़के कैंट विधायक सौरभ श्रीवास्तव, ठेकेदारों को ब्लैक लिस्ट करने को डीएम को लिखा पत्र

वाराणसी। अभी कुछ दिन पहले शिवपुरवा वार्ड में डूडा द्वारा कराए जा रहे सड़क निर्माण कार्य की शिकायत कैंट विधायक सौरभ श्रीवास्तव ने जिलाधिकारी से की थी और जांच कराने के लिए कहा था, जिसपर जिलाधिकारी ने जांच के लिए आदेश भी दे दिया था। अब विधायक बजरडीहा वार्ड गए तो वहां भी धांधली मिली। भड़के विधायक ने कई स्थानों पर खुदाई करवा कर जांच की, जिसमें पता चला कि कहीं पुराने पड़े मलबे और कहीं सीधे मिट्टी पर बालू डालकर इंटरलॉकिंग मार्ग निर्माण करवा दिया गया है। नाली भी नहीं बनाई गई, जबकि नाली का पैसा पास है। जलनिकासी के लिए ढाल तक नही बनाया गया। क्षुब्ध विधायक सौरभ श्रीवास्तव ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर तीनों स्थानों के ठेकेदारों को ब्लैकलिस्ट करने के लिए कहा है।

विधायक ने जिलाधिकारी को लिखा है कि मेरे विधानसभा क्षेत्र वाराणसी कैंट में डूडा द्वारा किए जा रहे निर्माण कार्यों का मैंने उसका स्थलीय निरीक्षण किया है। मेरे द्वारा किए गए निरीक्षण में निम्न तीन कार्यों में गंभीर अनियमितताएं पाई गई है। रिटेनिंग वॉल का निर्माण भी अत्यंत खराब गुणवत्ता का हुआ है। मैं पुनः यह कह रहा हूं कि ऐसे कुछ ठेकेदारों को ब्लैक लिस्ट करके ही हम बाकी को ठीक रास्ते पर ला सकते हैं।

विधायक सौरभ श्रीवास्तव ने बजरडीहा अल्पसंख्यक एवं मलिन बस्ती भूमिगत जल निकासी एवं गली निर्माण कार्य का निरीक्षण किया जहां इस कार्य में लगभग 300 मीटर CC ब्लॉक KC ड्रेन बनानी थी,  जिसको बिना बनाए ही इंटरलॉकिंग ईंट लगा दी गई। मौके पर निरीक्षण में पाया गया कि लगभग 150 मीटर मार्ग में बिना गिट्टी डालें बालू डालकर इंटरलॉकिंग लगा दी गई। जल निकासी के लिए पाइपलाइन डाले बिना ही इंटरलॉकिंग ईट लगा दी गई। वहीं पूरी गली में रिटेनिंग वॉल जोड़ी ही नहीं गई है, जिसकी वजह से जो इंटरलॉकिंग ईंट लगी है, वह भी पूरी खिसक गई है। पूरी गली में इंटरलॉकिंग ईंट उबड़ खाबड़ लगी है।

वार्ड नंबर 4 शिवपुरवा में डी 59/255-1-आर से विनोद सोनकर के आवास तक तथा डी 59/330-सी हीरावती देवी के आवास से डी 59/232 मालती देवी के आवास तक इंटरलॉकिंग द्वारा गली निर्माण कार्य में बिना लेबल लिए टूटी जल निकासी की पाईप डाल दी गई। पाईप के नीचे जो गिट्टी का बेस डाला जाता हैं वह भी नही डाला गया।

इसी तरह वार्ड नंबर 4 शिवपुरवा अंतर्गत रेलवे सड़क के किनारे स्थित मलिन बस्ती व निराला नगर में इंटरलॉकिंग व नाली निर्माण कार्य में जिस गली में पाईप लाईन डाल कर इंटरलॉकिंग लगाना था, वहां बिना पाईप लाईन डाले ही इंटरलॉकिंग ईंट लगा दी गई। इंटरलॉकिंग ईंट के नीचे बेस में गिट्टी की धूल डालकर इंटरलॉकिंग ईंट लगा दी गई है, वह भी मानक से बहुत कम।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक  करें।

Share this story