मोदी की गारंटी के साथ योगी के कानून मॉडल ने बढ़ाया भाजपा का वोट प्रतिशत

मोदी की गारंटी के साथ योगी के कानून मॉडल ने बढ़ाया भाजपा का वोट प्रतिशत
मोदी की गारंटी के साथ योगी के कानून मॉडल ने बढ़ाया भाजपा का वोट प्रतिशत




- 2019 के लोकसभा, 2022 के विधानसभा व 2023 में मेयर चुनाव में बनाया रिकॉर्ड

झांसी,03 अप्रैल (हि.स.)। देश में मोदी की गारंटी तो उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री के रूप में योगी आदित्यनाथ के उत्तर प्रदेश की सत्ता संभालने के बाद कानून मॉडल ने भारतीय जनता पार्टी के वोटों का ग्राफ लगातार बढ़ाया है। यहां तक कि देश के कई राज्यों में भी योगी के कानून मॉडल की नकल की जा रही है। झांसी जिले में लोकसभा चुनाव, विधानसभा चुनाव और नगर निकाय चुनाव में योगी मॉडल का असर साफ़ तौर पर दिखाई दे रहा है। मोदी की गारंटी के साथ योगी सरकार के प्रशासन के मॉडल ने भाजपा के आधार को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में झांसी सीट पर भारतीय जनता पार्टी प्रत्याशी उमा भारती की जीत हुयी थी। इस चुनाव में भाजपा प्रत्याशी उमा भारती को 5,75,889 वोट मिले थे। वर्ष 2017 में योगी आदित्यनाथ ने सूबे की कमान संभाली। वर्ष 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में इस सीट पर भाजपा प्रत्याशी अनुराग शर्मा की जीत हुयी। इस चुनाव में योगी फैक्टर का असर साफ तौर पर दिखाई दिया और अनुराग शर्मा को 8,09,272 वोट मिले।

झांसी जिले में विधानसभा की चार सीटें हैं। वर्ष 2017 में झांसी सदर सीट पर भाजपा के रवि शर्मा की जीत हुयी थी और उन्हें 1,17,873 वोट मिले थे। वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में भी रवि शर्मा को जीत मिली और इस बार उन्हें 1,48,262 वोट मिले। वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में बबीना विधानसभा सीट पर भाजपा के राजीव सिंह पारीछा की जीत हुयी और उन्हें 96,713 वोट मिले थे। वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में भाजपा के राजीव सिंह पारीछा ने फिर से जीत दर्ज की और उन्हें 1,18,343 वोट मिले।

गरौठा विधानसभा सीट पर 2017 में भाजपा के जवाहर लाल राजपूत चुनाव जीते और उन्हें 93,378 वोट मिले। वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में भी भाजपा के जवाहर लाल राजपूत की फिर से जीत हुई और उन्हें 1,14,059 वोट मिले। मऊरानीपुर सीट पर 2017 के चुनाव में भाजपा के बिहारी लाल आर्य की जीत हुयी और उन्हें 98,905 वोट मिले। वर्ष 2022 में इस सीट पर भाजपा के सहयोगी अपना दल ने डॉ रश्मि आर्य को प्रत्याशी बनाया और उन्होंने 1,43,577 वोट हासिल कर जीत दर्ज किया।

नगर निकाय चुनाव में भी योगी फैक्टर ने वोटों में बढ़ोत्तरी का सिलसिला जारी रखा। वर्ष 2017 के नगर निकाय चुनाव में भाजपा के रामतीर्थ सिंघल झांसी नगर निगम के मेयर का चुनाव जीते थे और उन्हें 76,757 वोट मिले थे। वर्ष 2023 में हुए नगर निकाय चुनाव में झांसी मेयर सीट पर भाजपा के बिहारी लाल आर्य चुनाव जीते और उन्हें 1,23,503 वोट मिले थे।

राजनीतिक विश्लेषक डॉ संजय सिंह कहते हैं कि उत्तर प्रदेश में योगी मॉडल का करिश्मा चुनावों में साफ़ तौर पर दिखाई दे रहा है। विशेष तौर पर दलित और आदिवासी आबादी का बड़ा हिस्सा योगी के कानून-व्यवस्था के मॉडल से प्रभावित होकर भाजपा को वोट कर रहा है। झांसी और आसपास के क्षेत्रों में हमें यह साफ़ तौर पर दिखाई देता है क्योंकि इस क्षेत्र में कानून व्यवस्था हमेशा से एक मुद्दा रहा है। मुख्यमंत्री के रूप में योगी आदित्यनाथ की कार्यशैली ने भाजपा के वोट आधार को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

हिन्दुस्थान समाचार/महेश/मोहित

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story