जलशक्ति विभाग में शीघ्रता से पूर्ण होंगे रिक्त पद, विभागाध्यक्ष को मिली जिम्मेदारी

जलशक्ति विभाग में शीघ्रता से पूर्ण होंगे रिक्त पद, विभागाध्यक्ष को मिली जिम्मेदारी
जलशक्ति विभाग में शीघ्रता से पूर्ण होंगे रिक्त पद, विभागाध्यक्ष को मिली जिम्मेदारी


लखनऊ, 11 जून(हि.स.)। प्रदेश के जलशक्ति मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह ने मंगलवार को विभागीय समीक्षा बैठक की। उन्होंने विभागाध्यक्ष से रिक्त पदों की जानकारी ली और विभाग के अंतर्गत सभी रिक्त पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया को लाने और जल्द से जल्द पूर्ण कराने का निर्देश दिए।

विभागाध्यक्ष को बड़ी जिम्मेदारी देते हुए उन्होंने कहा कि जलशक्ति विभाग में तमाम पद रिक्त हैं और उसे भरने के लिए अपनी ओर से हमारे प्रयास में कमी रह गयी। जिसे शीघ्रता से भरा जाना चाहिए।

जलशक्ति मंत्री ने स्थानांतरण नीति की प्रक्रिया को पूर्ण करने के भी निर्देश दिये। स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि तीन वर्ष से अधिक समय से एक ही जिले या पटल पर कार्यरत कर्मचारियों का स्थानांतरण या फिर पटल परिवर्तन अनिवार्य रूप से किया जाये। उन्हें मनचाही जगह पर भी स्थानांतरण किया जाये। किंतु एक बार स्थानांतरण होने के बाद आदेश में संशोधन नहीं होना चाहिए।

स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र के जलप्लावन को न्यूनतम करने के लिए वित्तीय वर्ष 2024-25 में कुल चार हजार बीस ड्रेनों की सफ़ाई करानी है, जिनकी कुल लंबाई पन्द्रह हजार पांच सौ पच्चासी किलोमीटर है। इसकी सफाई का कार्य निर्धारित समय सीमा में पूर्ण कर लिया जाये।

उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारियों को बाढ़ से सुरक्षा प्रदान करने के लिए उप्र राज्य बाढ़ नियंत्रण परिषद की सन्तानवी एवं अन्ठानवी बैठक में अनुमोदित प्रदेश के अड़तालीस जनपदों की कुल दो सौ एक्यासी बाढ़ सुरक्षात्मक परियोजनाएं तथा पूर्व चलित सन्तावन बाढ़ परियोजनाओं को आगामी बीस जून तक पूर्ण कराएं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के समस्त अति संवेदनशील तटबंधों पर निगरानी हेतु नामित अधिकारी एवं कर्मचारी सतत निगरानी करते रहें। बाढ़ अवधि में बाढ़ सूचनाओं के संकलन एवं संप्रेषण हेतु लखनऊ में स्थापित केंद्रीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष तथा विभिन्न जनपदों में स्थापित समस्त बाढ़ नियंत्रण कक्षों को आगामी 15 जून 2024 से संपूर्ण बाढ़ अवधि में सतत रूप से क्रियाशील रखें।

हिन्दुस्थान समाचार/शरद/राजेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story