हाथरस भगदड़ काण्ड में इनामी मुख्य आयोजक मधुकर समेत तीन और आरोपी गिरफ्तार

हाथरस भगदड़ काण्ड में इनामी मुख्य आयोजक मधुकर समेत तीन और आरोपी गिरफ्तार
हाथरस भगदड़ काण्ड में इनामी मुख्य आयोजक मधुकर समेत तीन और आरोपी गिरफ्तार


हाथरस भगदड़ काण्ड में इनामी मुख्य आयोजक मधुकर समेत तीन और आरोपी गिरफ्तार


हाथरस भगदड़ काण्ड में इनामी मुख्य आयोजक मधुकर समेत तीन और आरोपी गिरफ्तार


हाथरस भगदड़ काण्ड में इनामी मुख्य आयोजक मधुकर समेत तीन और आरोपी गिरफ्तार


-प्रकरण में पुलिस अब तक कुल नौ लोगों को कर चुकी है गिरफ्तार

हाथरस, 06 जुलाई (हि.स.)। जनपद हाथरस के थाना सिकंदराराऊ के ग्राम फुलरई मुगलगढ़ी में बाबा भोले के सत्संग समागम में भगदड़ के चलते घटी दुर्भाग्यपूर्ण घटना में पुलिस की कार्रवाई लगातार जारी है। शनिवार को प्रकरण से जुड़े मुख्य आयोजक के अलावा दो अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है। इस तरह से कुल नौ लोगों को अब तक पुलिस की टीम गिरफ्तार कर चुकी है।

पुलिस अधीक्षक निपुण अग्रवाल ने बताया कि बीते दो जुलाई को भोले बाबा के सत्संग कार्यक्रम के उपरान्त भगदड़ मचने से 121 लोगों की मृत्यु हो गयी थी। घटना के सन्दर्भ में थाना सिकन्दराराऊ ने मुख्य आयोजक देव प्रकाश मधुकर व अन्य व्यक्तियों के विरुद्ध भारतीय न्याय संहिता की धारा-105/110/126(2)/223/238 में अभियोग पंजीकृत किया है। घटना की विवेचना पुलिस उपाधीक्षक स्तर के अधिकारी को स्थानान्तरित करते हुए पूर्व में 06 अभियुक्तों की गिरफ्तारी हो चुकी थी। इस घटना के मुख्य अभियुक्त देवप्रकाश मधुकर की गिरफ्तारी के लिए अपर पुलिस महानिदेशक आगरा जोन ने एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया था। इनामी अभियुक्त देवप्रकाश मधुकर को हाथरस की एसओजी ने शुक्रवार देर शाम नजफगढ़ (दिल्ली) से गिरफ्तार कर लिया था। शनिवार को इसी प्रकरण में थाना सिकन्दराराऊ पुलिस को अभियुक्त रामप्रकाश शाक्य को कैलोरा चौराहा से तथा अभियुक्त संजू यादव को गोपालपुर कचौरी, सिकन्दराराऊ से गिरफ्तार किया है।

एसपी ने बताया कि प्रारम्भिक पूछताछ पर अभियुक्त देवप्रकाश मधुकर ने बताया कि वह जनपद एटा में वर्ष 2010 से मनरेगा में जूनियर इंजीनियर के पद पर संविदा पर कार्यरत है। वह इस संगठन से वर्षों से जुड़ा है और इस संगठन के कार्यक्रम आयोजित कराना तथा फण्ड इकट्ठा करने का काम करता है। वह दो जुलाई ग्राम फुलरई में आयोजित सत्संग के कार्यक्रम का मुख्य आयोजक था तथा इस कार्यक्रम की अनुमति इन्ही के द्वारा ही ली गयी थी। इस प्रकार अभियुक्त देवप्रकाश मधुकर की इस घटना में दो भूमिकाए- मुख्य आयोजक एवं फण्ड एकत्र करने वाले के रूप में प्रकाश में आयी है। सत्संग भगदड़ मामले में अब तक कुल नौ लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई जारी है।

हिन्दुस्थान समाचार/मदन मोहन/मोहित/आकाश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story