नई प्रणाली के तहत बार-बार एस्टीमेट और टेंडर से मिलेगी मुक्ति

नई प्रणाली के तहत बार-बार एस्टीमेट और टेंडर से मिलेगी मुक्ति
नई प्रणाली के तहत बार-बार एस्टीमेट और टेंडर से मिलेगी मुक्ति


अमेठी, 02 अप्रैल (हि.स.)। उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण की ओर से पहली बार औद्योगिक क्षेत्र में अपनाई जा रही अनुरक्षण प्रणाली से पूरे वर्ष भर औद्योगिक क्षेत्र एवं आवासीय कॉलोनी में कार्य होता रहेगा। इसी के साथ छोटे-छोटे कार्यों के लिए बार-बार एस्टीमेट बनाने और टेंडर निकालने की भी आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीसीडा) की तरफ से अमेठी जिले के औद्योगिक क्षेत्र जगदीशपुर में 3 करोड़ 77 लाख रुपये से एक साल तक अनुरक्षण का कार्य कराया जाएगा। जिसमें औद्योगिक क्षेत्र उतेलवा एवं उनके आवासीय कॉलोनी में नई व्यवस्था के तहत एक ही बार में पूरे साल भर में बार-बार होने वाले एस्टीमेट और टेंडर कार्य से निजात मिल जाएगी। जिससे नालियों और सड़कों की मरम्मत के साथ-साथ साफ सफाई और स्वच्छता बनी रहेगी। यही नहीं उतेलवा और जगदीशपुर औद्योगिक क्षेत्र में खराब सड़कों की मरम्मत एवं सड़क की पटरियों और आसपास झाड़ियों की साफ सफाई भी होती रहेगी। यह कार्य महोना ट्रेडर्स को दिया गया है और पूरे वर्ष उसी के द्वारा अनुरक्षण के माध्यम से मरम्मत का समस्त कार्य कराया जाएगा।

इस मामले में उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण के प्रधान महाप्रबंधक संदीप चंद्रा ने बताया कि अनुरक्षण प्रणाली पहली बार औद्योगिक क्षेत्र में अपनाई जा रही है। इससे अब एस्टीमेट और टेंडर बार-बार नहीं करना पड़ेगा। समय-समय पर अनुरक्षण के कार्य स्वतः होते रहेंगे। जिससे औद्योगिक क्षेत्र के आवंटियों एवं आमजनमानस को बेहतर सुविधा प्राप्त हो सकेगी।

हिन्दुस्थान समाचार/लोकेश त्रिपाठी/राजेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story