एनोरेक्टल रीजन के इलाज पर चर्चा करेंगे सर्जन

एनोरेक्टल रीजन के इलाज पर चर्चा करेंगे सर्जन
एनोरेक्टल रीजन के इलाज पर चर्चा करेंगे सर्जन


प्रयागराज, 02 अप्रैल (हि.स.)। संगमनगरी में 3 से 7 अप्रैल तक देश भर के सर्जन जुटेंगे और पाइल्स, फिस्टुला पिलोनाइडल साइनस एवं एनोरेक्टल रीजन के इलाज पर चर्चा करेंगे। भारत में हर तीसरा व्यक्ति इस समस्या से ग्रसित है। इस फेलोशिप कोर्स के जरिये जनरल सर्जन के मध्य नवीनतम तकनीकों एवं आधुनिक उपचारों के बारे में बताया जायेगा।

यह जानकारी प्रेस क्लब में इलाहाबाद सर्जन वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. अशोक अग्रवाल ने पत्रकारों को दी। उन्होंने बताया कि यह आयोजन मोती लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में किया जायेगा। सचिव डॉ. वैभव श्रीवास्तव ने बताया कि प्रथम तीन दिन तक बीमारियों पर चर्चा की जायेगी और उसके बाद 6-7 को परीक्षा होगी। सर्जरी विभाग के अध्यक्ष डॉ. वी.के पाण्डेय ने बताया कि कार्यक्रम में ट्रेनर एवं ट्रेनी जनरल सर्जन होंगे।

एसोसिएशन सर्जन ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. प्रोबाल नियोगी ने कहा कि इस बीमारी में ऑॅपरेशन के बाद भी रोग दुबारा हो सकता है। ऐसा क्यों, इस पर भी चर्चा की जायेगी। एसोसिएशन के संयुक्त सचिव डॉ. संतोष सिंह ने बताया कि इस फेलोशिप के दौरान प्रशिक्षुओं को लेजर विधि रोबोटिक तकनीक एवं दर्द रहित जटिल सर्जरी के विषय में जानकारी दी जायेगी।

हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त/सियाराम

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story