राजीव गांधी ने संविधान पर शरीयत लादने का किया था कुकर्म : प्रेम शुक्ला

राजीव गांधी ने संविधान पर शरीयत लादने का किया था कुकर्म : प्रेम शुक्ला
राजीव गांधी ने संविधान पर शरीयत लादने का किया था कुकर्म : प्रेम शुक्ला


भाजपा पर संविधान बदलने का मनगढ़ंत आरोप लगा रहा पाखंडिया गठबंधन

लखनऊ, 15 मई (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रेम शुक्ल ने बुधवार को भाजपा प्रदेश मुख्यालय में पत्रकारों के साथ चर्चा करते हुए कहा कि चार चरणों के चुनाव के पश्चात सुनिश्चित हो गया है कि भाजपा चार चरणों के चुनाव में ही बहुमत का आंकड़ा पार करने की स्थिति में है। यही कारण है कि विपक्ष बौखलाया हुआ है और बौखलाहट में पाखंडिया गठबंधन भाजपा पर संविधान बदलने का मनगढ़ंत आरोप लगा रहे हैं।

प्रेम शुक्ल ने कहा कि राहुल गांधी के अब्बा हूजुर हजरत राजीव गांधी ने संविधान पर शरीयत लादने का कुकर्म किया था। संविधान पर शरीयत लादने का कांग्रेस का इरादा है वह बार-बार प्रकट होता रहा है। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर के संविधान की आत्मा को कुचलने के इरादे से 2004 में आन्ध्रप्रदेश में मुस्लिम आरक्षण का प्रावधान किया गया। जिसे बाद में उच्चतम न्यायालय ने असंवैधानिक घोषित किया था। 2006 में जस्टिस रंगनाथ मिश्र आयोग का गठन कर कांग्रेस के द्वारा सिफारिश करवाई गई कि मुस्लिमों के लिए 15 फीसदी आरक्षण की व्यवस्था की जानी चाहिए। इसके साथ ही आयोग ने 6 फीसदी आरक्षण पिछड़ों से छीनकर मुस्लिमों को देने की सिफारिश भी की गई। कांग्रेस का 2009 का घोषणा पत्र मुसलमानों को आरक्षण देने प्रतिबद्धता व्यक्त करता है और मनमोहन सिंह सरकार ने 2011 में मुस्लिम आरक्षण पर कैबिनेट नोट भी दिया था।

श्री शुक्ल ने कहा कि डॉ.भीमराव अम्बेडकर तथा सरदार वल्लभ भाई पटेल जैसे विद्वत जनों ने संविधान सभा मे निर्धारित किया कि देश में धर्म के आधार पर आरक्षण लागू नहीं होगा। फिर भी कांग्रेस बार-बार संविधान की मूल आत्मा को कुचलने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि इस बार कांग्रेस के घोषणा पत्र में पर्सनल लॉ संरक्षित रखने बात की गई है। विश्व में किसी भी सेक्युलर देश में किसी भी धर्म के लिए पर्सनल लॉ की व्यवस्था नहीं है। यह कांग्रेस का संविधान पर शरीयत लादने का प्रयास है। उन्होंने कहा कि इसका जवाब राहुल गांधी के कारिंदे अध्यक्ष को देना चाहिए।

श्री शुक्ल ने कहा कि इंडी गठबंधन के घटक दलों में से किसी भी दल की स्थिति 40 सीट जीतने की भी नहीं है और भाजपा कितनी सीटें जीतेगी इसको लेकर भविष्यवाणी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इंडी गठबंधन लगातार हार की हताशा के कारण कुंठा का शिकार है और यही कुंठा आज कांग्रेस व सपा की प्रेस वार्ता में साफतौर पर देखी गई है।

हिन्दुस्थान समाचार/बृजनन्दन/राजेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story