निजी स्कूलों की तर्ज पर परिषदीय विद्यालयों में बनेगी अभिभावक डेस्क

निजी स्कूलों की तर्ज पर परिषदीय विद्यालयों में बनेगी अभिभावक डेस्क
निजी स्कूलों की तर्ज पर परिषदीय विद्यालयों में बनेगी अभिभावक डेस्क


हमीरपुर, 09 जून (हि.स.)। निजी स्कूलों की तर्ज पर परिषदीय स्कूलों में भी अभिभावक डेस्क बनाया जाएगा। यहां अभिभावकों को स्कूल में मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी के साथ ही बच्चों की शैक्षिक प्रगति के बारे में भी बताया जाएगा। इससे अभिभावकों में शिक्षा के प्रति जागरूकता लाने का प्रयास किया जाएगा।

बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए अभिभावक निजी स्कूलों की ओर ज्यादा आकर्षित होते हैं, क्योंकि इनमें हर महीने मासिक टेस्ट होता है। उस टेस्ट में आए परिणाम के बारे में शिक्षकों द्वारा अभिभावक के साथ बैठक कर बच्चों की शैक्षिक प्रगति के बारे में बताया जाता है। शिक्षा के अलावा किसी अन्य रुचियों के बारे में भी जानकारी दी जाती है। जबकि परिषदीय विद्यालयों में यह व्यवस्था नहीं है। अब परिषदीय विद्यालयों में भी हेल्प डेस्क बनाने की योजना तैयार हुई है। जिले में 968 परिषदीय विद्यालय हैं। इसमें प्राथमिक विद्यालय, उच्च प्राथमिक विद्यालय और कंपोजिट विद्यालय है।

इन विद्यालयों में हेल्प डेस्क से सरकारी योजनाओं का प्रचार प्रसार होगा। समग्र शिक्षा योजना, बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ, कन्या सुमंगला योजना आदि की जानकारियां दी जाएंगी। आउट ऑफ स्कूल बच्चों के बौद्धिक विकास में अभिभावकों की भागीदारी सुनिश्चित कराने के लिए पहल की गई है।

बीएसए आलोक सिंह ने बताया कि सभी स्कूलों में हेल्प डेस्क बनाने के लिए प्रधानाध्यापकों को निर्देश दिए गए हैं। बच्चों के बारे में अभिभावकों को बताया जाएगा। ऐसे बच्चों की स्कूल में वापसी का प्रयास भी डेस्क के माध्यम से होगा। यदि अभिभावक की ओर से कोई शिकायत की जाती है तो उसे रजिस्टर में दर्ज कर उसका समाधान करने का भी प्रयास किया जाएगा।

हिन्दुस्थान समाचार/पंकज/राजेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story