नन्हीं बालिकाओं के सशक्तिकरण का एनटीपीसी ने उठाया बीड़ा

नन्हीं बालिकाओं के सशक्तिकरण का एनटीपीसी ने उठाया बीड़ा
नन्हीं बालिकाओं के सशक्तिकरण का एनटीपीसी ने उठाया बीड़ा


रायबरेली,15मई(हि.स.)। सतत विद्युत उत्पादन के द्वारा ऊर्जा क्षेत्र में भारत को आत्मनिर्भर बनाने का संकल्प लिए एनटीपीसी उतनी ही जिम्मेदारी व संवेदनशीलता के साथ परियोजनाओं के आसपास की नन्हीं प्रतिभाओं की छिपी हुई मेधा को निखारने का एक महा अभियान चला रखा है। बालिका सशक्तिकरण अभियान के माध्यम से पिछले कई वर्षों से एनटीपीसी ऊंचाहार आसपास के गांवों की बालिकाओं को एक नया मंच देकर उनकी प्रतिभा को निखारने व व्यक्तित्व को संवारने का निरंतर प्रयास कर रहा रहा है। अभी तक सैकड़ों बालिकाओं को इस मुहिम से लाभान्वित किया जा चुका है। इसी क्रम में इस वर्ष भी बालिका सशक्तिकरण अभियान के तहत 120 बालिकाओं को 'सपनों की उड़ान' जैसे नारे गढ़कर संकल्प शक्ति का एक नया प्रयोग किया गया है।

बुधवार को बालिकाओं के सशक्तिकरण कार्यक्रम का शुभारंभ ऊंचाहार परियोजना प्रमुख मनदीप सिंह छाबड़ा तथा प्रियदर्शिनी लेडीज़ क्लब की अध्यक्षा तरूणा छाबड़ा व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने दीप प्रज्वलन के साथ किया। श्री छाबड़ा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि हमें प्रसन्नता है कि हमें बालिकाओं के सशक्तिकरण का अवसर मिला है। इसके अंतर्गत बालिकाओं के कौशल को विकसित करके उनके व्यक्तित्व को बहुआयामी बनाया जाएगा। श्री छाबड़ा ने विश्वास व्यक्त किया कि इस कार्यक्रम से प्रशिक्षित बालिकाओं को 'सपनों की उड़ान' भरने की इच्छाशक्ति को नया संबल मिलेगा।

उद्घाटन समारोह के दौरान पिछले वर्ष की बालिकाओं ने सांस्कृतिक नृत्य व गीत की प्रस्तुति दी। इसी के साथ इस वर्ष प्रतिभाग करने वाली बच्चियों ने भी सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लिया। कार्यशाला की फैकल्टी संस्था माई जेनआई की प्रतिनिधि वंदिता सैमुअल ने कार्यक्रम की रूपरेखा बताते हुए कहा कि बालिकाओं के सर्वांगीण विकास के लिए उन्हें शिक्षा के अलावा कराटे, गीत-संगीत, डांस, योगा व गुड टच-बैड टच आदि के विषय में बताया जाएगा। साथ ही ये प्रयास किया जाएगा कि बालिकाओं का आत्मविश्वास प्रबल हो सके।

इसके पूर्व मानव संसाधन प्रमुख रूमा दे शर्मा ने सभी का स्वागत किया और कहा कि एनटीपीसी ऊंचाहार के आंगन से प्रशिक्षित होकर यह बालिकाएं न केवल स्वयं को सशक्त करेंगी बल्कि भारत को सशक्त करने में बड़ी भूमिका निभाएंगी। कार्यक्रम के दौरान अतिथियों ने बालिकाओं के साथ केक काटा तथा उनका मुंह मीठा करवाकर उन्हें प्रोत्साहित किया। कार्यक्रम का संचालन सीएसआर प्रबंधक स्नेहा त्रिपाठी ने किया।

इस अवसर पर महाप्रबंधक (प्रचालन एवं अनुरक्षण) अतुल कमलाकर देसाई, महाप्रबंधक (ईंधन प्रबंधन) के डी यादव, महाप्रबंधक (प्रचालन) राजेश कुमार, अस्सिस्टेंट कमांडेंट सीआईएसएफ रामफल, अस्सिस्टेंट कमांडेंट सीआईएसएफ (फायर) आर एस सिरोही, पुरवारा ग्राम प्रधान आनंद पांडेय, जसौली ग्राम प्रधान शमशाद, बिकई के ग्राम प्रधान प्रतिनिधि सुभाष मौर्या, खुर्रमपुर के ग्राम प्रधान प्रतिनिधि विनय शुक्ला, यूनियन व एसोसिएशन के पदाधिकारी, अन्य विभागाध्यक्ष, प्रियदर्शिनी लेडीज़ क्लब की वरिष्ठ सदस्याएं, मानव संसाधन विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारी व बड़ी संख्या में कर्मचारी, महिलाएं व बच्चे उपस्थित रहे। कार्यक्रम के अंत में उप महाप्रबंधक (मानव संसाधन) डॉ. दिशा अवस्थी ने सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।

हिन्दुस्थान समाचार/रजनीश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story