नीति आयोग भारत सरकार के सलाहकार ने आकांक्षी सम्पूर्णता अभियान का किया शुभारम्भ

नीति आयोग भारत सरकार के सलाहकार ने आकांक्षी सम्पूर्णता अभियान का किया शुभारम्भ
नीति आयोग भारत सरकार के सलाहकार ने आकांक्षी सम्पूर्णता अभियान का किया शुभारम्भ


--मधुमेह व उच्च रक्तचाप बीमारी नहीं बल्कि साइलेंट किलर

--अन्न प्राशन एवं गोद भराई कार्यक्रम में किया प्रतिभाग

प्रयागराज, 05 जुलाई (हि.स.)। नीति आयोग भारत सरकार के डिप्टी एडवाइजर हर्षित मिश्रा ने शुक्रवार को आकांक्षी विकास खण्ड बहरिया में सम्पूर्णता अभियान का शुभारम्भ किया। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में कुल 40 सूचकों के आधार पर 68 ब्लाकों का चयन किया गया है। जिसमें प्रयागराज से कोरांव व बहरिया ब्लाक चिन्हित है। उक्त 40 सूचकों में प्रमुख 6 संकेतकों को इन आकांक्षी ब्लाकों में 4 जुलाई से 30 सितम्बर तक सम्पूर्णता अभियान चलाकर पूर्ण किया जाना है।

उन्होंने कहा कि विकसित भारत की परिकल्पना को साकार करने के लिए प्रधानमंत्री के ‘‘संकल्प से सिद्धि’’ को आत्मसात् करते हुए हमें संकल्प लेना है कि इन दो आकांक्षी ब्लाकों में सम्पूर्णता अभियान के मापदण्डों को पूर्ण करने के लिए निर्धारित 30 सितम्बर के लक्ष्य को एक माह पूर्व 31 अगस्त तक ही पूर्ण कर लेना है। उन्होंने मधुमेह व उच्च रक्तचाप को बीमारी नहीं बल्कि साइलेंट किलर बताते हुए कहा कि सभी 30 वर्ष से अधिक आयु के लोग इसकी जांच नियमित रूप से अवश्य करायें। उन्होंने बच्चों का शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने, गर्भवती महिलाओं को प्रसव पूर्व देखभाल व पूरक पोषण उपलब्ध कराने के लिए कहा। उन्होंने फास्टफूड के स्थान पर घर में साफ, स्वच्छ बने खाने व श्रीअन्न का प्रयोग करने के लिए प्रेरित किया।

नीति आयोग भारत सरकार के एडवाइजर ने जनपद भ्रमण के तीसरे दिन आकांक्षी ब्लॉक बहरिया में सर्वप्रथम प्राथमिक विद्यालय बीरापुर एवं कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय का निरीक्षण करते हुए वहां मिल रही सुविधाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। तत्पश्चात कम्पोजिट विद्यालय नेवादा, बाल विकास परियोजना, राष्ट्रीय पशुरोग एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन किया। इस अवसर पर सम्पूर्णता अभियान के चयनित 6 पैरामीटर (स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि, आंगनबाड़ी, सामाजिक विकास एवं स्वयं सहायता समूह) के बारे में अलग-अलग विशेषज्ञों द्वारा जानकारी दी गई। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री द्वारा देश में 112 आकांक्षी जनपद के 500 विकास खण्डों के बारे में महत्वाकांक्षी योजना सम्पूर्णता अभियान के संदर्भ में वृत्त चित्त का भी प्रदर्शन किया गया।

इसके बाद नीति आयोग के सलाहकार ने संघर्ष प्रेरणा महिला संकुल क्लस्टर लेवल फेडरेशन (सीएलएफ), सेल्फ हेल्प ग्रुप, उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़ी महिलाओं से वार्तालाप कर उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने आंगनवाड़ी केंद्र भरेहता द्वितीय में अन्न प्रासन एवं गोद भराई कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। उन्होंने उपस्थित लोगो को सम्पूर्णता अभियान के सभी सूचकों को संतृप्त करने के लिए शपथ भी दिलायी।

इस अवसर पर उपजिलाधिकारी फूलपुर तपन कुमार मिश्र, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण कुमार तिवारी, डीपीओ दिनेश सिंह, डिप्टी डीटीओ-नोडल डॉ एसके सिंह, बीडीओ कोरांव धीरेंद्र यादव, उप मुख्य चिकित्साधिकारी, उपायुक्त श्रम, अधीक्षक सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र बहरिया, उप पशुचिकित्साधिकारी बहरिया, बाल विकास परियोजना अधिकारी बहरिया, बहरिया एवं विकास खण्ड के सभी अधिकारी व कर्मचारी तथा ग्राम पंचायतों प्रधान गण एवं क्षेत्र पंचायत सदस्य, आंगनवाड़ी कार्यकर्ती एवं क्षेत्रिय जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त/बृजनंदन

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story