विशेष संचारी रोग नियंत्रण माह में ‘दस्तक’ अभियान शुरू, घर-घर भ्रमण करेंगी आशा कार्यकर्ता

विशेष संचारी रोग नियंत्रण माह में ‘दस्तक’ अभियान शुरू, घर-घर भ्रमण करेंगी आशा कार्यकर्ता


—डेंगू, मलेरिया, फाइलेरिया, कालाजार, टीबी, कुष्ठ समेत बुखार के रोगियों को करेंगी चिन्हित

वाराणसी, 11 जुलाई (हि.स.)। मच्छर व जल जनित रोगों समेत अन्य संचारी रोगों की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार से दस्तक अभियान शुरू किया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ संदीप चौधरी ने बताया कि इस अभियान में आशा कार्यकर्ताएं घर-घर जाकर दरवाजा खट-खटाएंगी और परिवार के सभी सदस्यों के स्वास्थ्य की जानकारी लेंगी। बुखार समेत डेंगू, मलेरिया, फाइलेरिया, कालाजार, टीबी, कुष्ठ एवं जल जनित रोगों से ग्रसित व्यक्तियों को चिन्हित कर उनकी सूची तैयार करेंगी। साथ ही उन्हें जांच व उपचार के लिए प्रेरित करेंगी। अभियान में परिवार के सभी सदस्यों की आभा आईडी बनाने पर भी विशेष ज़ोर दिया जाएगा।

नोडल अधिकारी एवं एसीएमओ डॉ एसएस कनौजिया ने बताया कि आशा कार्यकत्री संभावित रोगियों को चिन्हित करने के साथ–साथ वेक्टर, जल, मूषक, सुकर जनित रोगों के लक्षण, कारण, जांच, उपचार और बचाव के बारे में विस्तार से जानकारी देंगी। इन रोगों से बचाव के जागरूकता के लिए स्टीकर, पोस्टर आदि चस्पा किए जाएंगे।

जिला मलेरिया अधिकारी शरत चंद पाण्डेय ने बताया कि अभियान के लिए 26 सौ से अधिक आशा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित किया जा चुका है, जो घर-घर जाकर संभावित रोगियों की पहचान कर उन्हें चिन्हित करेंगी। वेक्टर और लार्वा सर्विलान्स के लिए 16 टीमें तैयार की गई हैं। शहरी क्षेत्र में रेंडम लार्वा जांच के लिए 19 सुपरवाइज़र तैनात किए गए हैं।

हिन्दुस्थान समाचार / श्रीधर त्रिपाठी / राजेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story