मुरादाबाद की कॉलानियों में भरा बरसात का पानी, नाव का सहारा ले रहे लोग

मुरादाबाद की कॉलानियों में भरा बरसात का पानी, नाव का सहारा ले रहे लोग
मुरादाबाद की कॉलानियों में भरा बरसात का पानी, नाव का सहारा ले रहे लोग


मुरादाबाद की कॉलानियों में भरा बरसात का पानी, नाव का सहारा ले रहे लोग






















मुरादाबाद, 07 जुलाई (हि.स.)। जनपद में कई दिनों से बारिश हो रही है। इसकी वजह से आवास विकास और मुरादाबाद विकास प्राधिकरण (एमडीए) की कॉलोनियों में पानी भर गया। जलभराव के कारण सड़कें ताल तलैया बन गईं और यहां के लोगों को आवागमन के लिए नाव का सहारा लेना पड़ रहा है।

मझोला क्षेत्र की प्राइवेट कालोनी,भोलानाथ कॉलोनी एवं महाशिव कॉलोनी में कई दिनों से जलभराव है। इन दोनों कॉलोनियों में जल भराव की वजह से सड़कें ताल तलैया बनी हुई है। रविवार को कुंभकरणी नींद से जागने के बाद नगर निगम और जिला प्रशासन अधिकारियों ने इन कॉलोनियों का निरीक्षण किया। यहां की स्थिति का जायजा लेने और आवागमन के लिए नाव की व्यवस्था कराई है। नगर निगम की ओर से तीन सक्शन मशीनों से पानी निकाला जा रहा है। बिगड़े हालात के कारण वहां रहने वाले कई लोगों के घरों में खाना तक नहीं बना है। स्कूली बच्चों तक को स्कूल भेजने के लिए लोगों को नाव का जोखिम भरा सहारा लेना पड़ रहा है।

भोलानाथ कॉलोनी निवासी प्रदीप रस्तोगी का कहना हैं कि मेरे घर में तीन दिन से बरसात का गंदा पानी भरा है। सड़कें जलमग्न हैं। हर साल ऐसे ही हालात से हम लोगों को गुजरना पड़ता है। किसी तरह सामान को सुरक्षित स्थान पर रख गुजर-बसर कर रहे हैं। चारों तरफ पानी होने के कारण सांप समेत कई तरह के कीड़े-मकोड़ों का भी डर सभी को सताता रहता है, जिससे सभी की रात आंखों में कटती है। महाशिव कॉलोनी निवासी प्रेमवती ने कहा कि बरसात का पानी उनकी दुकान में भरने के कारण रखी सीमेंट खराब हो गई। सड़कों पर तीन से चार फिट पानी भरा है। रेलवे गोदाम से होता हुआ एक मुख्य नाला भोलानाथ कॉलोनी के पास से होकर गुजरता है। नाले में जमा सिल्ट की काफी समय से सफाई नहीं कराई गई। निकास अभाव में नाले के फट जाने से पूरा पानी कॉलोनी में आने से यह हालात बने हैं। जल निकास के नाम पर हर साल नगर निगम धन की बर्बादी करता है, लेकिन नाले को ऊंचा करके बनवाता नहीं।

हिन्दुस्थान समाचार/निमित/दीपक/सियाराम

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story