कन्नौज नहीं छोड़ेंगे अखिलेश, ईद के बाद होगा ऐलान-ए-जंग

कन्नौज नहीं छोड़ेंगे अखिलेश, ईद के बाद होगा ऐलान-ए-जंग
कन्नौज नहीं छोड़ेंगे अखिलेश, ईद के बाद होगा ऐलान-ए-जंग


कन्नौज, 02 अप्रैल (हि.स.)। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव मंगलवार को कन्नौज पहुंचे। यहां उन्होंने पार्टी कार्यालय पर पदाधिकारियों को संबोधित किया। अखिलेश के इस दौरे को लेकर ये कयास लगाए जा रहे थे कि वो कन्नौज से लोकसभा प्रत्याशी की घोषणा कर सकते हैं। लेकिन अखिलेश ने आज भी प्रत्याशी के नाम की घोषणा नहीं की लेकिन इशारों-इशारों में बता दिया कि वे स्वयं ही यहां से ताल ठोंकेंगे। हालांकि अखिलेश ने ईद के बाद इस बारे में चर्चा करने की बात कही है।

पार्टी कार्यालय में अखिलेश के संबोधन के दौरान कन्नौज के छिबरामऊ निवासी पूर्व सांसद छोटे सिंह ने माइक पकड़ कर उनको रोक दिया। पूर्व सांसद ने अखिलेश से कहा, बोलिए कि कन्नौज से आप चुनाव लड़ेंगे लेकिन अखिलेश ने ये कहते हुए बात घुमा दी कि कन्नौज को छोड़ कौन रहा है?

पार्टी कार्यालय में अखिलेश यादव को 51 किलो की माला पहनाकर कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया। अखिलेश के साथ पूर्व मंत्री शिवकुमार बेरिया भी मंच पर मौजूद रहे। अपने संबोधन में अखिलेश ने भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला। अखिलेश ने पार्टी कार्यालय पर कहा, कन्नौज में समाजवादियों के विकास का मुकाबला सरकार नहीं कर पा रही है। यहां सबसे अधिक विकास कराने का काम समाजवादियों ने किया। हमने यहां विश्व का सबसे आधुनिक काऊ मिल्क प्लांट लगाया था। लेकिन भाजपा सरकार ने उसे बन्द करवा दिया। सोलर प्लांट लगाने के लिए पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम को हम लोग लेकर आए थे। जिससे किसानों को फ्री बिजली मिल रही थी। लेकिन सरकार ने उसे भी बन्द करवा दिया। यहां का परफ्यूम और यहां का इत्र दुनिया में प्रसिद्ध है। लाखों करोड़ का इत्र कारोबार यहां होता है। जिसको आगे ले जाने के लिए हम फ्रांस गए थे। वहां की तकनीकी को देखा था। जिसे कन्नौज में लागू करना था। लेकिन भाजपा सरकार ने उस पर भी पानी फेर दिया।

आय बढ़ाने वाले प्लांट सरकार ने बन्द कर दिए

अखिलेश ने कन्नौज के जसोदा में अडानी की गोदाम पर कटाक्ष करते हुए कहा कि किसानों की आय बढ़ाने वाले प्लांट सरकार ने बन्द कर दिए। बड़े उद्योगपतियों के प्लांट चालू करवा दिये। किसानों से सीधी फसल खरीद के लिए कन्नौज में विशिष्ट आलू मंडी बनाई थी, लेकिन भाजपा ने उस पर खानापूर्ति कर उसको भी बंद करवा दिया।

भाजपाइयों की धूमधाम से विदाई होगी

भाजपा वाले कहते हैं कि हम विश्व गुरु बनेंगे। दूसरी तरफ बेरोजगारी के कारण नौजवान आत्महत्या कर रहे हैं। कन्नौज के भूड़पुरवा गांव के रहने वाले ब्रजेश पाल ने बेरोजगारी के कारण सुसाइड किया। हमने उसका पूरा सुसाइड नोट पढ़ा है। फिरोजाबाद की एक छात्रा ने परीक्षा लीक होने के कारण फांसी लगा ली।

परीक्षा लीक होने से यूपी के 60 लाख युवा प्रभावित हुए हैं। उन प्रभावित परिवारों को समाजवादी पार्टी से जोड़ने का काम कर लिया तो लोकसभा सीट जीतना मुश्किल नहीं होगा। इस बार भाजपाइयों की धूमधाम से विदाई होगी। भाजपा के लोग 400 पार जीतेंगे नहीं बल्कि 400 सीटों पर हारेंगे।

एनडीए गठबंधन को 80 में से 80 सीटें हरानी हैं

इंडिया गठबंधन और हमारा पीडीए फेमस हो गया। तब से कुछ लोग इस फेमस ब्रांड की कॉपी करने लग गए। पीडीए की तर्ज पर एक नकली ब्रांड भी आ गया। जिससे समाजवादियों को होशियार रहना है। यूपी में एनडीए गठबंधन को 80 में से 80 सीटें हरानी है। यहां का हर किसान भाजपा को चुनाव हराने का काम करेगा। क्योंकि भाजपा ने किसानों की आय दोगुनी करने की बात कही थी। लेकिन आय दोगुनी नहीं हुई। किसानों का आलू खरीदने में भी सरकार पीछे रही। सपा की सरकार होती तो अब तक कन्नौज में आलू से शराब बनाने का कारखाना लग गया होता और सैकड़ो युवा रोजगार पा गए होते।

हिन्दुस्थान समाचार/संजीव झा/राजेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story