यूपी के दलित युवक की शादी में आई एक नई बाधा

Uttar Pradesh
महोबा। महोबा इलाके में एक दलित युवक ने अपनी दुल्हन के घर घोड़े की सवारी करने के लिए पुलिस सुरक्षा की मांग की थी। उसकी नई मुसीबत दुल्हन की उम्र को लेकर शुरू हो गई है क्योंकि दुल्हन नाबालिग है।

महोबा जिले के महोबकंठ क्षेत्र के माधवगंज के मूल निवासी अलखराम अहिरवार 18 जून को शादी करने के लिए तैयार थे । उन्होंने अपनी शादी के दिन पूर्व विवाह अनुष्ठान के दौरान घोड़े की सवारी के लिए सुरक्षा की मांग करते हुए स्थानीय पुलिस से संपर्क किया था।

सोशल मीडिया पर प्रसारित संदेशों में दावा किया गया है कि होने वाली दुल्हन की उम्र उसके आधार कार्ड के अनुसार 17 साल और एक महीने की है।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) महोबा आर.के. गौतम ने कहा, हमने सोशल मीडिया पर वायरल संदेशों के सामने आने के बाद जांच शुरू की है कि जिस लड़की के साथ अहिरवार की शादी होनी है, जांच चल रही है कि क्या वो नाबालिग है।

अंचल अधिकारी कुलपहाड़ को इस संबंध में जांच कर जल्द रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया गया है।

उन्होंने कहा, अगर लड़की नाबालिग पाई जाती है तो अहिरवार की सुरक्षा की अर्जी खारिज कर दी जाएगी।

अहिरवार ने संवाददाताओं से कहा कि उन्हें अपनी होने वाली दुल्हन की सही उम्र की जानकारी नहीं थी। उन्होंने कहा, मुझे सोशल मीडिया पर वायरल संदेशों के माध्यम से मामले के बारे में पता चला। मैं कानून का पालन करने वाला नागरिक हूं और उसकी उम्र की जांच के लिए पुलिस को पूरा सहयोग करूंगा।

--आईएएनएस

 

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक  करें।

Share this story