उत्तर प्रदेश सांस्कृतिक और ऐतिहासिक रूप से भी है समृद्ध: विनय श्रीवास्तव



उ.प्र. संस्कृत संस्थान, भाषा संस्थान एवं सिंधी अकादमी के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित हुआ उत्तर प्रदेश दिवस कार्यक्रम

लखनऊ, 25 जनवरी (हि.स.)। उत्तर प्रदेश दिवस के अवसर पर उ.प्र. संस्कृत संस्थान, भाषा संस्थान एवं सिंधी अकादमी के संयुक्त तत्वावधान में आज यानि बुधवार को ‘भारतीय भाषाएं और रोजगार‘ विषय पर संगोष्ठी आयोजित की गयी। समारोह में संस्थान के निदेशक विनय श्रीवास्तव ने कहा कि उत्तर प्रदेश सांस्कृतिक और ऐतिहासिक रूप से भी बेहद समृद्ध है।

उन्होंने कहा कि साल 2018 से प्रत्येक वर्ष 24 जनवरी को उत्तर प्रदेश दिवस का आयोजन किया जाता है। उ.प्र. सरकार के मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ के आशीर्वाद से उ.प्र. भाषा विभाग के अन्तर्गत भाषायी संस्थाओं द्वारा निरन्तर योजनाएं संचालित की जा रही हैं, जिससे स्वरोजगार के अवसर उत्पन्न हो रहे हैं। इस अवसर पर संस्थान के अधिकारियों व कर्मचारियों ने शपथ भी ली।

संस्कृत भाषा में उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान द्वारा योग, ज्योतिष पौरोहित्य प्रशिक्षण शिविर आदि विभिन्न जनोपयोगी एवं रोजगारपरक योजनाओं का आयोजन किया जा रहा है और एक रोजगार पोर्टल का भी निर्माण कराया जा रहा है। उ.प्र. सिंधी अकादमी द्वारा सिंधी लर्निंग कोर्स, छात्रवृत्ति योजना आदि का संचालन किया जा रहा है। इसी प्रकार उ.प्र. भाषा संस्थान द्वारा भी निरन्तर संगोष्ठियां व कार्यक्रम आदि किये जा रहे हैं। कार्यक्रम में आमंत्रित वक्ता डॉ शीलवन्त सिंह, लखनऊ, डाॅ पवन कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी,, कोमल असरानी ने भी विचार व्यक्त किए। उक्त कार्यक्रम में उ.प्र. सिंधी अकादमी, उ.प्र. भाषा संस्थान एवं उ.प्र. संस्कृत संस्थान के समस्त अधिकारियों एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/शैलेंद्र

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story