नया भारत दुनिया को नई राह दिखा रहा : मुख्य सचिव



- उत्तर प्रदेश सरकार एवं लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा जी-20 कॉन्क्लेव में वृहद रूप रेखा हुई तय

लखनऊ, 24 जनवरी (हि.स.)। जी-20 की अध्यक्षता से दुनिया को सशक्त और आत्मनिर्भरता से ओतप्रोत नया भारत दिखेगा। एक पृथ्वी एक परिवार एक भविष्य की भावना से भरा नया भारत दुनिया को नई राह दिखा रहा है, जो सशक्त-सक्षम-समर्थ और आत्मनिर्भरता से ओतप्रोत है। ये बातें उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने कही। वे प्रदेश सरकार एवं लखनऊ विवि द्वारा आयोजित जी-20 काॅनक्लेव में बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि जी-20 की अध्यक्षता भारत के प्रति दुनिया के विश्वास का प्रतीक है। ऐसे में हम सभी का यह जिम्मेदारी है कि हम इन आशाओं अपेक्षाओं से कहीं ज्यादा बेहतर करके दिखाएं। जी-20 ऐसे देशों का समूह है, जिनका आर्थिक सामर्थ्य विश्व की 85 प्रतिशत जीडीपी का प्रतिनिधित्व करता है। जी-20 विश्व के 75 प्रतिशत व्यापार का प्रतिनिधित्व करते हैं।

आजादी के अमृत काल में देश के सामने यह बड़ा अवसर आया है, जो हर भारत वासी के लिए गर्व की बात है। हमें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुत करना है। वित्तीय समावेशन, सभी के लिए मकान, डिजिटल पेमेंट, आयुष्मान योजना, रिनेवेबले इनर्जी, योग आयुर्वेद के क्षेत्र में प्रदेश एवं देश ने अत्यधिक प्रगति की है। महिला सशक्तिकरण से बढ़कर महिला आधारित विकास के बात हो रही है। इन सभी सकारात्मक परिवर्तनों से हमें जी-20 देशों को अवगत कराना है और उनकी अच्छाइयों से सिख लेनी है विकसित देश होने के लिए।

कॉन्क्लेव की प्रस्तावना रखते हुए उच्च शिक्षा के प्रमुख सचिव सुधीर एम बोबड़े ने कहा कि जी-20 की अध्यक्षता दर्शाता है कि वसुधैव कुटुंबकम की भावना से भरे भारत की साख और धाक दोनों बढ़ रही है। भारत पूरे विश्व को एक समान उद्देश्य के लिए एक बेहतर भविष्य के लिए साथ लाने के विजन पर काम कर रहा है। जी-20 की अध्यक्षता का आयोजन हम सभी देशवासियों का आयोजन है।

उत्तर प्रदेश जी-20 के समन्वयक एवं लखनऊ विश्वविद्यालय अर्थशास्त्र विभाग के अध्यक्ष प्रो. एम के अग्रवाल ने कहा कि भारत का ग्रोथ मॉडल नए समावेशी ग्रोथ मॉडल को जन्म देता है। भारत में सबसे तीव्र गति से वैक्सीनेशन हुआ। कोरोना काल में भारत ने विश्व के विभिन्न देशों की रक्षा किया। खाद्ययान्यों की आपूर्ति वसुधैव कुटुम्बकम की भावना से की। इनकुलिसिव डेवलोपमेन्ट स्ट्रेटजी से विकास में सबसे अंतिम व्यक्ति का पोषक बने हैं।

उच्च शिक्षा के विशेष सचिव डॉ अखिलेश मिश्र ने कहा कि जी-20 अध्यक्षता का गर्व जन सामान्य में भरने के लिए जी 20 एम्बेसडर विभिन्न विश्वविद्यालयों एवं युवाओं के मध्य भारतीय संस्कृति, एकता और विशष्ट उपलब्धियों की जागरूकता बढ़ाएं। 27 जनवरी से लेकर अगस्त तक पूरे प्रदेश में यह जी 20 के कार्यक्रम चलेंगे।

उत्तर प्रदेश नगर विकास के प्रमुख सचिव अमृत अभिजात ने कहा कि यह एक श्रृंखला है, जिसके माध्यम से युवाओं और शिक्षाविदों के मध्य जागरूकता की जिम्मेदारी जगाने की। इससे प्रदेश के सकारात्मक श्रेष्ठ प्रयासों को गति दी जा सकें। कार्यक्रम का संचालन अर्थशास्त्र विभाग की सहायक आचार्य डॉ उर्वशी सिरोही ने किया।

हिन्दुस्थान समाचार/उपेन्द्र

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story