समाजवादी पुरोधा लोकबंधु राजनारायण की जयंती मनी, अधिवक्ताओं ने दी श्रद्धांजलि

समाजवादी पुरोधा लोकबंधु राजनारायण की जयंती मनी, अधिवक्ताओं ने दी श्रद्धांजलि


वाराणसी, 22 नवम्बर (हि.स.)। समाजवाद के पुरोधा लोकबंधु राजनारायण की 105वीं जयंती की पूर्व संध्या पर मंगलवार को अधिवक्ताओं ने उन्हें नमन कर श्रद्धासुमन अर्पित किया। दी तहसील बार एसोसिएशन राजातालाब के बैनर तले जुटे अधिवक्ताओं ने बार भवन में लोकबंधु के चित्र के सामने 105 दीप जलाकर उन्हें याद किया।

इस अवसर पर वक्ताओं ने उनके विशाल व्यक्तित्व को याद कर उनसे जुड़े संस्मरण भी सुनाये। 1966 से 1972 और 1974 से 1977 तक राज्यसभा सदस्य और दो बार लोकसभा सदस्य के रूप में भारतीय राजनीति में खास पहचान रहे राजनारायण मोरारजी देसाई की सरकार में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री भी रहे। वक्ताओं ने कहा कि डॉ राममनोहर लोहिया ने उनके बारे में कहा था कि राजनारायण जब तक जिंदा हैं, लोकतंत्र को कोई खतरा नहीं है। श्रद्धासुमन अर्पित करने वालों में बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अधिवक्ता रामजी सिंह पटेल, महामंत्री अधिवक्ता धीरेंद्र प्रताप सिंह, पूर्व अध्यक्ष अधिवक्ता दिनेश कुमार शर्मा, राज नारायण के पौत्र सुशील कुमार सिंह तोयज, मनीष कुमार सिंह आदि भी उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story