10 वर्ष में विकसित देश होगा भारत : स्वामी परमानन्द

10 वर्ष में विकसित देश होगा भारत : स्वामी परमानन्द


- विवादित जगह पर बनी मस्जिद की इबादत खुदा स्वीकार नहीं करता

हमीरपुर, 25 नवम्बर (हि.स.)। युग चेतना महाविद्यालय नजरपुर सुमेरपुर में चल रही भागवत कथा के दौरान आशीर्वचन देते हुए युगपुरुष स्वामी परमानंद ने कहा कि भारत अभी विकासशील देश है, किंतु 10 वर्ष के अंतराल में विकसित देश हो जाएगा।

भारत का भाग्योदय हो रहा है यह निर्णय भगवान ने ही कर लिया है, कोई भी पार्टी कुछ भी प्रयास कर ले भारत अपने खोए हुए गौरव पाने के लिए निकल पड़ा है इसे कोई रोक नहीं सकता। उन्होंने कहा कि एक समाज ऐसा भी है जो जहां भी है वही समस्या पैदा करता है, इस समाज ने मंदिर गिराए मस्जिदें बनाई।

उन्होंने कहा कि विवादित जगह पर बनी मस्जिद की इबादत खुदा स्वीकार नहीं करता फिर भी विवादित जगह पर मस्जिद इसलिए बनाई कि यह उनकी महजबी जिद ही थी। एक जिद तो उनकी चली गई। यदि हिंदू जागृत बना रहा तो जो भी हमारे विवादित स्थल हैं सभी वापस होंगे, इसमें सभी के सहयोग की जरूरत है।

युगपुरुष स्वामी परमानंद ने कहा कि अब यह देश विकासशील है, 10 साल में यह विकसित देश होगा। मोदी के द्वारा निरंतर विकास हो रहा है। हमारा देश विश्व गुरु था और आज भी है, लेकिन हमारे यहां केवल मुख से उपदेश नहीं किया जाता था। भारतीय संस्कृति को आचरण में भी धारण करके प्रस्तुत किया जाता था, इसके लिए हमें राम के आदर्शों पर चलना होगा।

इससे पूर्व कथा व्यास महामंडलेश्वर स्वामी ज्योतिर्मयानंद ने पांचवें दिन की कथा में श्री कृष्ण की बाल लीलाओं का वर्णन किया। कहा कि श्री कृष्ण ने पर्यावरण के संरक्षण के लिए कई उपाय किए थे। उनका कहना था कि आज दस प्रतिशत लोग पर्यावरण का दोहन कर रहे हैं, लेकिन उन्हें नहीं मालूम प्रकृति के प्रकोप से उन्हें भी कोई नहीं बचा पाएगा।

इस अवसर पर कार्यक्रम के व्यवस्थापक स्वामी सिद्धस्वरूप महाराज, साध्वी दिव्य चेतना दीदी, स्वामी जगतप्रकाश त्यागी, स्वामी सत्यप्रकाश, स्वामी दयानंद, स्वामी चेतनानंद, साध्वी प्रज्ञा भारती, स्वामी संपूर्णानंद, गोपाल कृष्ण पाठक, डा. अनिल पाण्डेय, कथा के परीक्षित राकेश गुप्ता और अंजली गुप्ता सहित बड़ी संख्या में श्रोता आदि मौजूद रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/पंकज

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story