नगरीय निकाय चुनावों में प्रत्याशी उतारेगी अखिल भारत हिन्दू महासभा

नगरीय निकाय चुनावों में प्रत्याशी उतारेगी अखिल भारत हिन्दू महासभा


मेरठ, 22 नवम्बर (हि.स.)। अखिल भारत हिन्दू महासभा ने नगरीय निकाय चुनाव लड़ने का बड़ा ऐलान किया है। हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा ने मंगलवार को चुनाव लड़ने की घोषणा की। आगामी नगरीय निकाय चुनावों में विचारधारा से युक्त योग्य प्रत्याशियों को चुनाव लड़ाया जाएगा।

शारदा रोड पर नाथूराम गोडसे नाना आप्टे धाम परिसर स्थित अखिल भारत हिन्दू महासभा के कार्यालय में मंगलवार को पत्रकार वार्ता में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा ने महासभा के नगरीय निकाय चुनाव लड़ने का ऐलान किया।

उन्होंने कहा कि आगामी नगरीय निकाय चुनावों में हिंदू महासभा की ओर से हिंदू राष्ट्र को समर्पित राष्ट्रवादी प्रत्याशियों को पार्षद और महापौर पद पर चुनाव लड़ाया जाएगा। निकाय चुनाव का मेरठ जिले का प्रमुख अभिषेक अग्रवाल, मेरठ नगर का प्रमुख भरत राजपूत और सह प्रमुख अमित राणा तथा आयुष सिंघल को बनाया गया। चुनाव कार्यालय प्रमुख दीपक शर्मा बनाए गए। ये सभी लोग मिलकर मेरठ जिला, मेरठ नगर से राष्ट्र प्रेमी प्रत्याशियों को चिन्हित करेंगे और उन्हें चुनाव लड़ाने का कार्य करेंगे।

अभिषेक अग्रवाल ने बताया कि इस बार हिंदू महासभा अपनी ओर से मेरठ जिले के सभी नगरीय निकायों में चुनाव लड़ेगी। समर्पित प्रत्याशी को एक शपथ पत्र भरना होगा। शपथ पत्र के नियम अनुसार, सबसे पहले हिंदू महासभा के चुनावी घोषणा पत्र में जनता को किए वादों की लिस्ट में पहला काम भारत को हिंदू राष्ट्र बनाना होगा। दूसरा काम हर हिंदू को गाय माता को पालने का कार्य करना होगा। तीसरा कार्य भारत के अंदर हो रहे धर्म धर्मांतरण जैसे मुख्य मुद्दों पर उन्हें हमेशा काम करना होगा। भारत के अंदर बढ़ती हुई इस्लामिक तुष्टिकरण की राजनीति को समाप्त करना होगा।

हिंदू महासभा का महापौर बनने पर मेरठ का नाम बदलकर नाथूराम गोडसे नगर किया जाएगा। मेरठ शहर के जिले के सभी इस्लामिक क्षेत्रों का नाम बदलकर हिंदू महापुरुषों के नाम पर किया जाएगा। वह मेरठ के सभी सरकारी संस्थाओं के आसपास के क्षेत्रों का सड़कों का नाम बदलकर देश के महान क्रांतिकारियों के नाम पर होगा।

उन्होंने कहा कि निर्दलीय चुनाव लड़ने वालों को हिन्दू महासभा अपने पैनल पर चुनाव लड़ाएगी। आज पूरे भारतवर्ष में कोई भी संगठन हिंदूवादी राजनीति करने को तैयार नहीं है। जिस कारण दिन पर दिन देश के अंदर इस्लामिक तुष्टीकरण बढ़ता जा रहा है। कभी भारतीय जनता पार्टी अपने आपको हिंदूवादी पार्टी कहा करती थी, पर आज उसमें भी गैर समुदाय के लोगों का वर्चस्व बढ़ता जा रहा है।

शिवसेना भी आज मुस्लिम तुष्टीकरण की राजनीति करने की और बढ़ रही है। पूरे भारतवर्ष में हिन्दू महासभा एकमात्र संगठन है जो अपनी स्थापना से लेकर आज तक सिर्फ और सिर्फ हिंदूवादी अस्तित्व के लिए जीता है। चुनाव लड़ने के इच्छुक लोग हिन्दू महासभा के कार्यालय में आकर संपर्क कर सकते हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/कुलदीप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story