एयर एंबुलेंस सुविधा के नाम पर 19 लाख वसूलने का आरोप, कंपनी समेत तीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज

एयर एंबुलेंस सुविधा के नाम पर 19 लाख वसूलने का आरोप, कंपनी समेत तीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज

वाराणसी। कोरोना संक्रमित मरीज को उपचार के लिए हैदराबाद ले जाने के लिए एयर एंबुलेंस सुविधा देने के नाम पर 19 लाख रुपये वसूलने के आरोप में बुधवार को फूलपुर थाने में सेवा प्रदाता कंपनी व अन्य दो के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया। इम मामले में एंबुलेंस सेवा प्रदाता कंपनी पंचमुखी एयर एंबुलेंस प्राइवेट लिमिटेड, चिकित्सक डॉ अभिलाष व कैप्टन पुर्वक को नामजद किया गया है। 

जानकारी के अनुसार गाजीपुर के पूर्व सांसद राधेमोहन सिंह के भाई तेज बहादुर सिंह को कोरोना संक्रमित होने पर गत 22 अप्रैल को बीएचयू अस्पताल में भर्ती कराया गया था। स्थिति बिगड़ने पर उनके परिवार ने हैदराबाद स्थित अपोलो अस्पताल से संपर्क किया। अस्पताल से सहमति मिलने पर परिवार के लोगों ने एक एयर एंबुलेंस प्रदाता कंपनी से संपर्क किया। 

कंपनी के कहने पर पहले 13 लाख में बुकिंग की, फिर छह लाख रुपये दिए गए। इसके बाद सोमवार शाम चार बजे बाबतपुर एयरपोर्ट पर सेवा प्रदाता कंपनी पंचमुखी एयर एंबुलेंस ने पहुंचने के लिए कहा। परिवारजन मरीज को लेकर एयरपोर्ट पहुंच गए लेकिन एयर एंबुलेंस नहीं पहुंची। 

प्रदाता कंपनी के लोगों से संपर्क करने पर बताया गया कि एयर एंबुलेंस रात 9 बजे पहुंचेगी। बार बार मेल कर दबाव बनाने पर रात 11 बजे एयर एंबुलेंस बाबतपुर पहुंची, लेकिन उसमें प्राथमिक उपचार की सुविधाएं और ऑक्सीजन तक की सुविधा नहीं थी। 

इस पर परिवार के लोगों ने एतराज जताया तो मरीज को छोड़कर एयर एंबुलेंस चली गई। इसके बाद मरीज के छोटे भाई गगां सागर सिंह ने फूलपुर पुलिस को उक्त कंपनी के अलावा एक चिकित्सक व कैप्टन के खिलाफ तहरीर दी । पुलिस मुकदमा दर्ज कर जांच में जुट गई है।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिककरें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये यहां क्लिककरें।

Share this story