उत्तराखंड एसटीएफ ने नकल कराने वाले गिरोह के एक सदस्य को हरियाणा से पकड़ा, अब तक तीन गिरफ्तार

उत्तराखंड एसटीएफ ने नकल कराने वाले गिरोह के एक सदस्य को हरियाणा से पकड़ा, अब तक तीन गिरफ्तार


देहरादून, 11 जुलाई (हि.स.)। भारतीय वन्य जीव संस्थान देहरादून की एमटीएस पदों की भर्ती परीक्षा में नकल कराने वाले गिरोह के एक सदस्य को उत्तराखंड एसटीएफ ने हरियाणा से गिरफ्तार किया। हरियाणा के कैथल क्षेत्र में एसटीएफ उत्तराखंड एवं रोहतक के संयुक्त ऑपरेशन में यह सफलता मिली है। एसटीएफ गत वर्ष पटेलनगर थाना में पंजीकृत इस अभियोग की विवेचना कर रही थी। गिरोह में अब तक तीन सदस्यों की गिरफ्तारी हुई है। भर्ती परीक्षा में नकल करने वाले गिरोह के सदस्य आधुनिक डिवाइसों का प्रयोग करते हैं।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने बताया कि पटेलनगर थाना पर डॉ सुरेश कुमार भारतीय वन्य जीव संस्थान देहरादून ने 17 सितंबर 2023 को रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि भारतीय वन्य जीव संस्थान देहरादून में मल्टी टास्किंग स्टाफ (एमटीएस) पद के लिए परीक्षा का आयोजन राजाराम मोहन राय पब्लिक स्कूल पटेलनगर में आयोजित किया गया था। इसकी द्वितीय पारी में परीक्षा के दौरान दो अभ्यर्थियों की गतिविधि संदिग्ध पाए जाने एवं उनकी चेकिंग करने पर उनके कान से एक छोटा इयरफोन व छाती पर कमीज के नीचे से कैमरे से युक्त एक इलेक्ट्रानिक डिवाइस एवं मेज के नीचे से एक और इलेक्ट्रानिक डिवाइस जिस पर मोबाइल कंपनी का सिम लगा हुआ था, बरामद हुई थी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने तीन नकलचियों यथा नवराज पुत्र ईश्वर निवासी जीन्द, हरियाणा एवं प्रदीप पुत्र हरेंद्र मोर निवासी जीन्द हरियाणा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

मामले में किसी बड़े संगठित गिरोह के संलिप्त होने के दृष्टिगत मामले की विवेचना पुलिस मुख्यालय ने उत्तराखंड एसटीएफ को सुपुर्द कर दी। एसटीएफ निरीक्षक सुधीर कुमार ने विवेचना से पाया कि इस मामले में पकड़ा गया दूसरा नकलची प्रदीप पुत्र हरेन्द्र किसी अन्य अभ्यर्थी मोहित मौर्य के नाम से परीक्षा दे रहा था। मामले में अन्य दो सदस्य सोनू पुत्र शीशपाल निवासी कैथल हरियाणा एवं पवन पुत्र सुरेंद्र निवासी जीन्द हरियाणा के नाम प्रकाश में आए। इस गिरोह के सदस्यों की गिरफ्तारी के लिए एसटीएफ ने हरियाणा में दबिश दी तो वहां से फरार हो गए। इस पर एसटीएफ ने वारंट जारी कराए और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून अजय सिंह ने 15 हजार रुपये इनाम की घोषणा भी की।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ ने बताया कि इनामी अपराधी सोनू पुत्र शीशपाल के संबंध में सूचना मिलने पर एसटीएफ टीम को गत 10 जुलाई को कैथल हरियाणा के लिए भेजा गया, जहां रोहतक एसटीएफ के साथ सयुक्त ऑपरेशन करते हुए उत्तराखंड एसटीएफ सोनू पुत्र शीशपाल निवासी ग्राम डुण्डवा थाना कलायत जनपद कैथल हरियाणा को गिरफ्तार कर देहरादून ले आई और न्यायालय में पेश किया।

समाप्त

हिन्दुस्थान समाचार / कमलेश्वर शरण / आकाश कुमार राय

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story