मोदी की रैली के बाद भाजपा मय होगा उत्तराखण्ड : धामी

मोदी की रैली के बाद भाजपा मय होगा उत्तराखण्ड : धामी






रुद्रपुर (उधम सिंह नगर), 01अप्रैल (हि.स.)। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंगलवार को होने वाली रैली के ऐतिहासिक होने का दावा किया है। उन्होंने कहा कि रैली की सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। यह रैली इस चुनाव में उत्तराखण्ड को कांग्रेस मुक्त करने में अहम भूमिका निभायेगी।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सोमवार को नैनीताल रोड स्थित एक होटल में पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की इस रैली की तैयारी के लिए पार्टी को बहुत कम समय मिला है, लेकिन इसके बावजूद पूरी तैयारी कर ली गई। इस रैली को लेकर कार्यकर्ताओं में भारी उत्साह है।

उन्होंने कहा कि स्टार प्रचारकों में उत्तराखण्ड को सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की रैली मिलना कार्यकर्ताओं के लिए गर्व की बात है। धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की रैली के बाद पूरा उत्तराखण्ड भाजपामय होने वाला है इस कारण विपक्षी दलों की बेचैनी बढ़ गयी है।

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने लंबे समय तक प्रचंड बहुमत से देश पर राज किया, लेकिन कभी उत्तराखंड की पीड़ा को महसूस नहीं किया। भारतीय जनता पार्टी और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने इस दर्द को महसूस किया और पूर्ण बहुमत नहीं होने के बावजूद राज्य का निर्माण किया। इतना ही नही, कांग्रेस को भी डबल इंजन की सरकार चलाने का मौका मिला, लेकिन उसने कभी राज्य के विकास के लिए कोई बड़ी योजना या आर्थिक मदद देने का कभी प्रयास नही किया। अटल जी के दिए विशेष राज्य का दर्जा और औद्योगिक पैकेज को भी वापस लेने का पाप किया गया। इस कारण राज्य में औद्योगिक तथा अन्य क्षेत्रों में विकास की गति रुक गयी। यूपीए की सरकार में राज्य के साथ हुए सौतेले व्यवहार पर कांग्रेसी चुप रहे। केदारनाथ आपदा के समय भी कांग्रेस ने कंजूसी दिखाई। दूसरे प्रदेशों से मदद करने वालों को भी कांग्रेस राजनैतिक चश्मे से देखती रही?

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि महिला सशक्तिकरण का ढिंढोरा पीटने वाली कांग्रेस राज्य की 5 सीटों में एक महिला को भी टिकट नहीं दे पायी। वही पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत उत्तराखण्ड में कांग्रेस की परिवारवाद की बेल को उत्तराखंड में सींच रहे हैं। देवभूमि की जनता इस बार भी इस सोच को नकारने वाली है।

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के दिल में उत्तराखंड बसता है और प्रत्येक उत्तराखंडवासी उन्हें अपना स्वाभाविक अभिभावक मानता है और उनसे बहुत प्यार करता है। कुछ जनकल्याणकारी योजनाओं के आंकड़ों को ही देखें तो डबल इंजन सरकार का दम देखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत उत्तराखंड में अब तक 55.03 लाख से अधिक लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाए जा चुके हैं और इसमें कुल 270 अस्पतालों को सम्मिलित किया गया है। इस योजना में अब तक 7 लाख से अधिक मरीज निःशुल्क उपचार करा चुके हैं। आयुष्मान योजना के अंतर्गत लाभार्थियों के उपचार पर अब तक 12 हजार करोड़ रुपये खर्च किये गये जबकि पीएम आवास योजना राज्य में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 51,097 गरीब परिवारों को घर मुहैया करवाया गया है जिसमे 780.55 करोड़ रुपये जारी किये गए हैं।

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि पीएम किसान समृद्धि योजना उत्तराखंड के 9.53 लाख से ज्यादा किसानों को किसान समृद्धि योजना के तहत कुल 2224.36 करोड़ की धनराशि निर्गत की जा चुकी है इस योजना के तहत किसानों को प्रतिवर्ष 6000 रुपये की धनराशि प्राप्त हो रही हैं। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना इस योजना के तहत उत्तराखंड में कुल 5,25,768 मुफ्त गैस कनेक्शन बांटे गए हैं। इसके साथ ही इन परिवारों को गैस सिलेंडर भरवाने पर 300 रुपये की सब्सिडी मिल रही है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न अंत्योदय कार्ड धारक परिवारों के 1 लाख 94 हजार पात्र व्यक्तियों को मुफ्त राशन की आपूर्ति की जा रही है। इंफ्रास्ट्रक्चर एवं विकास की योजनाओं की बात की जाए तो एक छोटा प्रदेश होने के बावजूद रिकॉर्ड 2 लाख करोड़ से अधिक की परियोजनाएं संचालित हो रही हैं ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी डबल इंजन की सरकार में उत्तराखंड आज विकास के हाइवे पर दौड़ रही है। जल्द ही देवभूमिवासी पहाड़ पर रेल को चढ़ते देखेंगे। चार धाम ऑल वेदर रोड, बद्रीनाथ-केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्य, केदारनाथ, हेमकुंड साहिब, मां पूर्णागिरी शक्तिपीठ रोप वे, वन्दे भारत सहित नई ट्रेनें, सीमान्त ग्रामों का विकास डबल इंजन की बड़ी उपलब्धियां हैं।

इसी तरह टनकपुर-पिथौरागढ़-आदि कैलाश तक ऑल वेदर रोड राष्ट्रीय राजमार्ग का नवनिर्माण, पंतनगर से दिल्ली, पिथौरागढ़ से देहरादून एयर हेली कनेक्टिविटी हल्घ्द्वानी-पिथौरागढ़-मुनस्यारी, हल्द्वानी-चम्पावत, देहरादून- गौचर, देहरादून-चिन्यालीसौड़ नई हवाई उड़ानें शुरू की गयी है। ऋषिकेश-कर्णप्रयाग और टनकपुर-बागेश्वर रेलवे लाइन, पंतनगर अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा, मानसखंड मंदिर माला मिशन, डेस्टिनेशन वेडिंग नीति, दशकों से लंबित जमरानी, लखवाड़ व्यासी और किसाऊ बांध परियोजना की स्वीकृति देकर एक पीढ़ी का ताउम्र इंतजार समाप्त किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यूसीसी लागू करने वाला पहला राज्य बनना उत्तराखंड के लिए गर्व का विषय है। ये कानून माताओं बहिनों को धार्मिक सामाजिक कुरीतियों से आजादी दिलाने वाला है। समान आर्थिक और कानूनी अधिकार दिलाने वाला है, युवाओं बुजुर्गों को सामाजिक सुरक्षा देने वाला है, भविष्य के एक भारत श्रेष्ठ और समान भारत की नींव रखने वाला है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार युवाओं के सुरक्षित और उज्ज्वल भविष्य के लिए कठोरतम नकल कानून लेकर आई है। इस कानून ने कांग्रेस की सरकारों में पनपाए और सींचे गए भ्रष्टाचार के वट वृक्ष को जड़ से उखाड़ने का काम किया है। नकल माफिया और नियुक्ति प्रक्रिया के भ्रष्टाचारी तंत्र आज सलाखों के पीछे अपनी सजा का इंतजार कर रहे हैं। ईमानदार, पारदर्शी और व्यवस्थित तरीके से हो रही भर्तियों से हजारों युवक युवतियां ने रोजगार प्राप्त किया है, जिसमे अनेकों प्रतिभागी एक साथ 3-3 परीक्षाओं में सफलता प्राप्त कर रहे हैं।

इस दौरान उत्तराखण्ड प्रभारी दुष्यंत गौतम, सांसद प्रत्याशी अल्मोड़ा अजय टम्टा, जिलाध्यक्ष कमल जिंदल, विधायक शिव अरोरा, लोकसभा संयोजक विवेक सक्सेना, भाजपा प्रदेश मंत्री विकास शर्मा,लोकसभा मीडिया प्रभारी चंदन बिष्ट, भारत भूषण चुघ, मयंक कक्कड़ आदि मौजूद थे।

हिन्दुस्थान समाचार/ विजय आहूजा/रामानुज

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story