इस बार लोस चुनाव में वाहन चालकों की मौज! दोगुना किराए के साथ जेब खर्च भी देगा चुनाव आयोग

इस बार लोस चुनाव में वाहन चालकों की मौज! दोगुना किराए के साथ जेब खर्च भी देगा चुनाव आयोग
इस बार लोस चुनाव में वाहन चालकों की मौज! दोगुना किराए के साथ जेब खर्च भी देगा चुनाव आयोग


देहरादून, 01 अप्रैल (हि.स.)। इस बार लोकसभा चुनाव में वाहन चालकों की मौज होगी। उत्तराखंड में चुनाव आयोग ने मतदान प्रक्रिया में लगने वाले वाहनों का किराया बढ़ा दिया है। पहली बार इन वाहन चालकों को रोजाना 350 रुपये खानपान व मानदेय के रूप में जेब खर्च भी मिलेगा। वहीं, इस बार चुनाव आयोग डीजल खर्च भी वहन करेगा।

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय कुमार जोगदंडे ने बताया कि निर्वाचन टीमों को पोलिंग बूथ तक लेने के लिए जिन वाहनों का इस्तेमाल किया जाएगा, इस बार उनका किराया बढ़ाया गया है। पहले छोटे वाहनों के लिए 750 रुपये, बड़े वाहनों के लिए 1,800 रुपये किराया था, इस बार इसको बढ़ाते हुए छोटे वाहनों के लिए 1,430 रुपये और बड़े वाहनों के लिए 2,840 रुपये कर दिया गया है। 30 सीटर से बड़े वाहनों के लिए 3800 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से किराया दिया जाएगा। ईंधन का शुल्क अलग से वहन किया जाएगा। वाहन चालकों के लिए पहली बार 150 रुपये प्रतिदिन उनके खानपान के लिए और 200 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से मानदेय दिया जाएगा। पोलिंग पार्टियों के साथ जाने वाले वाहनों के चालकों को रहने और खाने की व्यवस्था संबंधित जिला निर्वाचन अधिकारी करेंगे।

लोस चुनाव को लेकर वैवाहिक कार्यक्रमों के लिए न हो दिक्कत, ऐसे करें वाहनों का प्रबंध-

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जानकारी मिली है कि निर्वाचन के समय शादियों की तिथियां भी आ रही हैं। इसको देखते हुए सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों, आरटीओ और एआरटीओ को निर्देश दिए गए हैं कि इस तरह से वाहनों का प्रबंध करें कि वैवाहिक कार्यक्रमों के लिए पर्याप्त संख्या में वाहन उपलब्ध रहें।

हिन्दुस्थान समाचार/कमलेश्वर शरण/रामानुज

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story