माली की स्वाभाविक मौत को मुद्दा बनाकर गीता भवन को किया जा रहा है बदनाम : गौतम

माली की स्वाभाविक मौत को मुद्दा बनाकर गीता भवन को किया जा रहा है बदनाम : गौतम
माली की स्वाभाविक मौत को मुद्दा बनाकर गीता भवन को किया जा रहा है बदनाम : गौतम




ऋषिकेश, 13 फरवरी (हि.स.)। गीता भवन के प्रबंधक गौतम कुमार ने जोंक ग्राम पंचायत के पूर्व अध्यक्ष सहित कुछ लोगों पर गीता भवन के माली की हुई पिछले दिनों मौत को मुद्दा बनाकर गीता भवन को राजनीतिक षड्यंत्र के चलते बदनाम किए जाने का आरोप लगाया है।

मंगलवार को गीता भवन में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान गौतम कुमार ने कहा कि विगत दिनों गीता भवन में कार्यरत 63 वर्षीय श्याम सुंदर पासवान माली के पद पर कार्यरत कर्मचारी की स्वाभाविक रूप से सामान्य स्थिति में मौत हो गई थी, जिसकी मौत को पंचायत के पूर्व अध्यक्ष ने अपने साथी पिंकी शर्मा उनके पति मुरली शर्मा, देवेंद्र यादव के साथ मिलकर विगत 2 फरवरी को गीता भवन नंबर 6 में उन्हें बुलाकर मृतक के परिजनों द्वारा नाजायज मुआवजे मांग की गई।

इसके बाद उन्होंने मानवता के आधार पर आर्थिक सहायता राशि दिए जाने का मृतक के परिजनों को आश्वासन दिया गया, लेकिन स्थानीय और असामाजिक तत्वों ने उन्हें भड़काकर मुझ पर जान से मारने की नीयत से जानलेवा हमला ही नहीं किया अपितु उनके साथ मारपीट करने के उपरांत उन्हें 4 घंटे तक अवैधानिक रूप से बंधक भी बनाया गया। उनके द्वारा पुलिस को दी गई सूचना के उपरांत उन्हें पुलिस ने मुक्त कराया। हमले में घायल होने के उपरांत उन्हें अस्पताल में भर्ती भी किया गया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इतना ही नहीं हमलावरों ने उन्हें एससी एसटी के मुकदमे में फंसाने और अन्य मुकदमे लगवा कर जेल भिजवाने की धमकी भी दी।

गौतम ने आरोप लगाया कि हमलावरों ने उन्हें यह भी धमकी दी कि उनका पुलिस कुछ भी नहीं बिगाड़ सकती, क्योंकि सभी अधिकारी व पुलिस के कर्मचारी उनकी जेब में रहते हैं। हमला करने वाले लोगों द्वारा अपना राजनीतिक हित साधते हुए उनके विरुद्ध एससी एसटी में मुकदमादर्ज करवाया गया। उनका आरोप है कि गीता भवन धार्मिक संस्थान है, जो भारत सरकार द्वारा गांधी शांति पुरस्कार से सम्मानित है। इस संस्था को स्थानीय नेताओं एवं सामाजिक तत्व द्वारा लगातार बदनाम किए जाने का षड्यंत्र भी किया जाता रहा है। उन्होंने आरोप लगाया है कि गीता भवन विश्व प्रसिद्ध संस्था है जहां नित्य रूप से होने वाले सत्संग में सत्संगी प्रतिभा करते हैं इस प्रकार की घटनाओं से उनके सत्संग में भी बाधा उत्पन्न हो रही है। उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर न्यायालय में भी मामला दर्ज किया गया है, जिससे उन्हें अपनी जान माल का खतरा भी बना है।

पत्रकार वार्ता में विकी साहब भवन के ट्रस्टी रामस्वरूप केजरीवाल पूर्व स्थापक गौरी शंकर , अशोक मिमानी, कैलाश शर्मा, विष्णु डिडवानी, एस एन गोयल, राम रतन मौर्य, संदीप आदि भी मौजूद थे।

हिन्दुस्थान समाचार/ विक्रम

/रामानुज

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story