कांग्रेस का चरित्र है महिला विरोधी, देवभूमि की मातृ शक्ति नहीं करेगी माफ : आशा नौटियाल

कांग्रेस का चरित्र है महिला विरोधी, देवभूमि की मातृ शक्ति नहीं करेगी माफ : आशा नौटियाल
कांग्रेस का चरित्र है महिला विरोधी, देवभूमि की मातृ शक्ति नहीं करेगी माफ : आशा नौटियाल


देहरादून, 04 अप्रैल (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की महिला मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष ने हेमा मालिनी पर की गई अभद्र टिप्पणी की निंदा की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का चरित्र हमेशा महिला विरोधी रहा है और इस पार्टी ने हमेशा नारी शक्ति का अपमान करने का काम किया है। देवभूमि की मातृ शक्ति महिलाओं के अपमान को कभी माफ नही करेगी।

हरिद्वार रोड स्थित प्रदेश मीडिया सेंटर में महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष आशा नौटियाल गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत कर रही थीं। उन्होंने कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला की ओर से हेमा मालिनी पर की गई अभद्र टिप्पणी को कांग्रेस की मातृ शक्ति के प्रति घटिया मानसिकता करार दिया है। महिला मोर्चा अध्यक्ष के नेतृत्व में पार्टी महिला प्रवक्ताओं की टीम राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नेहा जोशी, प्रदेश प्रवक्ता हनी पाठक, सुनीता विद्यार्थी, कमलेश रमन ने एक स्वर में कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुरजेवाला की ओर से नारी शक्ति के अपमान को उनकी पार्टी का असली चरित्र बताया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में महिलाओं का सम्मान नहीं होता है और अपने इस अपमान के लिए नारी शक्ति उन्हें कभी माफ नहीं करेगी।

आशा ने कहा कि इसके पहले हिमाचल प्रदेश के मंडी लोकसभा के भाजपा उम्मीदवार कंगना रनौत को लेकर भी कांग्रेस से इसी तरह का विवादित बयान सामने आया था। बार-बार कांग्रेस पार्टी नारी शक्ति का अपमान कर रही है, उसे इसका खामियाजा लोकसभा चुनाव में उठाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के नेता हार को सामने देखकर बुरी तरीके से हताश और बौखलाए हुए हैं। यही वजह है कि वह अपनी भड़ास माताओं और बहनों पर उतार रहे हैं। देश और प्रदेश की जनता किसी कीमत पर इसको बर्दाश्त नहीं करने वाली है। उन्होंने सिलसिलेवार ढंग से कांग्रेसी नेताओं के महिला उत्पीड़न के बड़े प्रकरणों का जिक्र किया।

महिला मोर्चा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नेहा जोशी ने कहा कि कांग्रेस के नीचे से लेकर ऊपर तक तमाम बड़े-बड़े नेताओं ने अक्सर महिलाओं का अपमान एवं शोषण किया है, लेकिन अफसोस है कि पार्टी की सबसे बड़ी नेता सोनिया गांधी और लड़की हूं लड़ सकती हूं, का नारा देने वाली प्रियंका वाड्रा की जुबान आज तक नहीं खुली। शायद यही वजह है कि उनका इशारा जानकर कांग्रेस में महिलाओं के अपमान की परंपरा बरकरार है। लेकिन देवभूमि उत्तराखंड, मातृशक्ति की भूमि है वो इन्हें माफ नही करने वाली है। एक बार फिर कांग्रेस को जनता लोकसभा चुनाव में सबक सिखाने वाली है।

हिन्दुस्थान समाचार/राजेश/रामानुज

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story