भारतीय वैश्य महासंघ का परिचय सम्मेलन, 109 जोड़ों ने आगे बढ़ाई बात

भारतीय वैश्य महासंघ का परिचय सम्मेलन, 109 जोड़ों ने आगे बढ़ाई बात
भारतीय वैश्य महासंघ का परिचय सम्मेलन, 109 जोड़ों ने आगे बढ़ाई बात


देहरादून, 09 जून (हि.स.)। भारतीय वैश्य महासंघ की ओर से रविवार को रेसकोर्स चौक स्थित अतिथि भवन पर विवाह योग्य वैश्य युवक-युवतियों के परिचय सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसमें लगभग 500 आवेदन पत्र आए। परिचय सम्मेलन में लगभग 109 जोड़ों ने एक-दूसरे से परिचय प्राप्त कर आगे बातचीत बढ़ाने की शुरुआत की। जन्मपत्री का मिलन भी आचार्य विप्र एवं कम्प्यूटर से किया गया। सर्वप्रथम दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया।

कुमारी स्मृद्धि वर्मा ने मंच पर गणेश वंदना पर सुंदर नृत्य कर सभी का मन मोह लिया। प्रदेश अध्यक्ष विनय गोयल ने कहा कि संस्था की ओर से यह सप्तम परिचय सम्मेलन है। इसमें लगभग 500 आवेदन प्राप्त हुए हैं। लगभग 350 से अधिक युवकों के आवेदन एवं युवतियों के लगभग 140 से अधिक आवेदन प्राप्त हुए हैं। उत्तराखंड के साथ दिल्ली, मुंबई, बिहार, हिमाचल के साथ गाजियाबाद, मेरठ, मुजफ्फरनगर, समस्तीपुर आदि से आवेदन आए हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय वैश्य महासंघ उत्तराखंड में मनपसंद वर-वधु का चुनाव एक ही छत के नीचे हो, ऐसा रचनात्मक प्रयास कर रहा है। उन्होंने आज के माहौल पर चर्चा करते हुए कहा कि पहले रिश्तेदार और परिचित एक-दूसरे के विवाह में सहयोग करते थे, लेकिन वर्तमान में जो वातावरण है उसमें यह व्यवस्था अब प्राय लुप्त हो रही है। इस कारण योग्य वर-वधु नहीं मिल पा रहे हैं। इससे युवक-युवतियों की विवाह की उम्र भी बढ़ती जा रही है। इसमें ज्यादा परेशानी अभिभावकों को हो रही है। परिचय सम्मेलन के माध्यम से लगभग सैकड़ों युवक-युवतियां घर बसाकर सुखद गृहस्थ जीवन व्यतीत कर रही हैं।

परिचय सम्मेलन 2024 स्मारिका का विमोचन

जिन्होंने आवेदन किए थे उन सभी को परिचय सम्मेलन 2024 स्मारिका नामक पत्रिका में संकलन कर इसका विमोचन किया गया और आवेदकों को स्मारिका वितरित की गई। जीएमएस मंडल के शिखर कुच्छल व ज्योति वर्मा ने सामूहिक हनुमान चालीसा का पाठ व मधुर भजन के साथ गीत-संगीत सुनाकर सभी को आनंदित कर दिया। बीच-बीच में प्रतिभा डांस अकादमी के बच्चों ने सुंदर नृत्य प्रस्तुत कर सभी को मंत्र मुग्ध कर दिया। प्रदेश अध्यक्ष विनय गोयल ने कहा कि परिचय सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य परिवारों को एक-दूसरे से मिलवाना होता है। इसमें इस प्रकार के कार्यक्रम मील का पत्थर साबित होते हैं। संगठन निकट भविष्य में भी इसी प्रकार के रचनात्मक कार्यक्रम करता रहेगा। इस दौरान प्रदेश संयोजक राजेंद्र गोयल, महानगर अध्यक्ष विनोद गोयल, संरक्षक राजीव गर्ग, महिला अध्यक्ष रीता अग्रवाल के साथ जीएमएस मंडल के संजय गुप्ता, संजय गर्ग, शिखर कुच्छल, महावीर गुप्ता आदि थे।

हिन्दुस्थान समाचार/कमलेश्वर शरण/प्रभात

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story