प्राकृतिक चिकित्सा से असाध्य रोगों का निदान संभवः अनिरुद्ध



हरिद्वार, 11 जून (हि.स.)। प्राकृतिक चिकित्सा से असाध्य रोगों का निदान संभव है। आधुनिकता की होड़ में हम सब प्रकृति से दूर होते जा रहे हैं। जिसका खामियाजा घटती प्रतिरोधक क्षमता के रुप में हमें भुगतनी पड़ती है। यह विचार भाजपा नेता अनिरुद्ध भाटी ने व्यक्त किए। भाटी उत्तरी हरिद्वार खड़खड़ी स्थित श्री पंचमुखी हनुमान मौनी मन्दिर में 11 से 30 जून तक आयोजित होने वाले प्राकृतिक चिकित्सा कैम्प का उद्घाटन करने के बाद संबोधित कर रहे थे।

अनिरुद्ध भाटी ने कहा कि प्राकृतिक चिकित्सा असरकारी पद्धति है, इसका हमारे जीवन पर कोई दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है। हरिद्वार विश्व प्रसिद्ध तीर्थ नगरी है। यहां देश दुनिया से लाखाें श्रद्धालु प्रतिदिन आते हैं। ऐसे में प्राकृतिक चिकित्सा कैम्प का आयोजन स्थानीय निवासियों व तीर्थ यात्रियों के लिए लाभदायक साबित होगा।

डॉ. दीपक गुप्ता ने कहा कि आरोग्य सेवा केन्द्र द्वारा आयोजित इस प्राकृतिक चिकित्सा शिविर में फिजियोथेरेपी, एक्युप्रेशर, होम्योपैथी, आयुर्वेद के माध्यम से जोड़ों का दर्द, सरवाइकल (गर्दन दर्द) साइटिका दर्द (कमर दर्द), घुटने, थाइराइड, ब्लड प्रेशर, शुगर, मोटापा जैसी असाध्य बीमारियों का उपचार किया जायेगा। उन्होंने कहा कि मानवता की सेवा को समर्पित आरोग्य सेवा केन्द्र लुधियाना विगत 25 वर्षो से देश भर में प्राकृतिक चिकित्सा शिविर का आयोजन कर रहा है।

पंचमुखी हनुमान मौनी मन्दिर के संचालक बाल गोविन्द पाण्डेय व सुरेश सेठी ने कहा कि प्रतिदिन प्रातः 8 से 12 बजे तक व सायंकाल 4 से 7 बजे तक मरीजों का इलाज करेंगे। इस मौके पर डॉ. दीपक गुप्ता, डॉ.अन्नू गुप्ता, रचना पाण्डेय, मनीष पाण्डेय, अभिषेक पाण्डेय, त्रिलोचन, डॉ. श्यामलाल पुरी, ललित सचदेवा, दिनेश शर्मा, गोपी सैनी, रूपेश शर्मा समेत अनेक गणमान्यजन उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/ रजनीकांत/सुनील

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story