चुनाव को निष्पक्ष कराने के लिए माइक्रो ऑब्जर्वरों को किया गया प्रशिक्षित

हरिद्वार, 04 अप्रैल (हि.स.)। लोकसभा सामान्य निर्वाचन को स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्वक कराये जाने के उद्देश्य से माइक्रो ऑब्जर्वराें को उनके दायित्वों और कर्तव्यों की जानकारी प्रदान करने के लिए कन्वेंशन हाल में एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया।

प्रशिक्षण के दौरान सामान्य प्रेक्षक लोचन सेहरा ने कहा कि चुनाव के लिए निर्वाचन आयोग की ओर से निर्धारित मानकों का अनुपालन सुनिश्चित कराना माइक्रोऑब्जर्वर की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि यदि कहीं पर कोई प्रतिकूल तथ्य संज्ञान में आता है तो उसकी जानकारी उच्चाधिकारियों के साथ-साथ उन्हें भी उपलब्ध करायें

प्रेक्षक ने कहा कि निर्वाचन की शुचिता, निष्पक्षता, गुणवत्ता व समयबद्धता को सुनिश्चित करने के लिए चुनाव आयोग की ओर से माइक्रो ऑब्जर्वर की तैनाती की गयी है जोकि सीधे जनरल ऑब्जर्वर को रिपोर्ट करेंगे। उन्होंने सभी का आह्वान किया कि इस अति महत्वपूर्ण कार्य को चुनौती के रूप में स्वीकार करें। प्रेक्षक ने कहा कि आयोग ने माइक्रोआब्जर्वर को इसलिए नियुक्त किया है कि कोई भी समस्या उत्पन्न होने पर आपकी रिपोर्ट से स्थानीय कर्मचारियों की रिपोर्ट को क्रॉस चेक किया जा सके।

उन्होंने कहा कि मतदान दिवस पर माइक्रो ऑब्जर्वर रिपोर्ट के किसी भी कॉलम को खाली नहीं छोड़ेंगे। प्रेक्षक ने बताया कि माइक्रोऑब्जर्वर पोलिंग पार्टी का अंग न होकर प्रेक्षक के प्रतिनिधि के तौर पर मतदान केंद्र पर उपस्थित रहकर सभी प्रक्रियाओं की निगरानी करेंगे और उसकी टाइमिंग को अपने प्रपत्र पर भरते रहेंगे।

नोडल अधिकारी प्रशिक्षण केएन तिवारी ने मतदान पार्टियों के कार्य और दायित्व, माइक्रो ऑब्जर्वर के कार्यों और दायित्व, विभिन्न प्रकार के प्रपत्रों आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी प्रतीक जैन, जिला पर्यटन विकास अधिकारी सुरेश सिंह यादव, ट्रेनर नरेश चौधरी, डॉ. संतोष कुमार चमोला, डॉ. नरेश चौधरी, आशीष नौटियाल, तरुण गर्ग सहित माइक्रो ऑब्जर्वर आदि उपस्थित थे।

हिन्दुस्थान समाचार/ रजनीकांत/सत्यवान/रामानुज

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story