दुपहिया वाहन चालकों से तमंचे के बल पर करते थे लूट, चार अंतरराज्यीय लुटेरे गिरफ्तार

आरोपितों की निशानदेही पर लूटे गए मोबाइल, नकदी व ज्वैलरी बरामद

हरिद्वार, 11 जून (हि.स.)। पुलिस ने दुपहिया वाहन चालकों को तमंचे के बल पर भयभीत कर उनसे लूटपाट करने के आरोप में चार अंतरराज्यीय शातिर लुटेरों को गिरफ्तार किया है। इन्हें पकड़ने वाली पुलिस टीम को एसएसपी ने पांच हजार रुपये नकद इनाम देने की घोषणा की है। पुलिस ने आरोपितों की निशानदेही पर लूट का सामान भी बरामद किया है।

जनपद के थाना झबरेड़ा में 10 जून को लखनौता थाना झबरेड़ा निवासी रितिक ने पुलिस को तहरीर देकर 09 जून की देर शाम को बाइक सवार 03-04 अज्ञात बदमाशों द्वारा इकबालपुर रोड पर निर्माणाधीन हाइवे के पास तमंचे के बल पर उसकी बाइक, मोबाइल फोन, पर्स, आधार कार्ड, पैन कार्ड व नकदी लूटने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था।

एसएसपी प्रमेन्द्र सिंह डोबाल ने मामले के खुलासे के लिए तत्काल पुलिस टीमें गठित कर एसपी देहात स्वप्न किशोर सिंह एवं सीओ मंगलौर विवेक कुमार को जिम्मेदारी सौंपी।

पुलिस टीम ने मुखबिर की सूचना पर इकबालपुर-कुंजा रोड से चार संदिग्धों को दबोचने में सफलता हासिल की। पुलिस ने चारों संदिग्ध के कब्जे से 315 बोर के 03 तमंचे व 01 चाकू तथा युवक से लूटी गई बाइक बरामद की।

पकड़े गए आरोपितों से सख्ती से पूछताछ करने पर उन्होंने बताया कि इससे पूर्व माह जनवरी में थाना झबरेड़ा क्षेत्र के गोकुलपुर देवबंद रोड पर मोबाइल फोन व 7200 रुपये नकदी लूट की घटना को अंजाम दिया था। आरोपित उम्मीद व मोहित ने 07 जून को छुटमलपुर, सहारनपुर में बाइक सवार महिला व पुरुष के साथ लूट की घटना को अंजाम देकर उनसे भी 02 मोबाइल फोन व कान के कुंडल को लूटने की बात स्वीकारी।

पुलिस ने पकड़े गए आरोपितों की निशानदेही पर करौंदी भगवानपुर स्थित किराये के कमरे से घटनाओं से सम्बन्धित मोबाइल फोन, नकदी, पर्स, आधार कार्ड, पैन कार्ड व आभूषण आदि बरामद किया। पूछताछ में आरोपितों ने अपने नाम व पते उम्मीद निवासी सरूरपुर थाना बागपत जिला बागपत हाल निवासी सोनीपत हरियाणा, मोहित निवासी सिवारा जिला बिजनौर उ.प्र., अमित कुमार निवासी देवबंद, सहारनपुर उ.प्र. व प्रिंस निवासी कैराना शामली हाल सोनीपत हरियाणा बताया।

ऐसे करते थे घटनाः

आरोपित सुनसान इलाकों में वारदात को अंजाम देते थे। अगर दो या तीन मोटरसाइकिल एक साथ जाती थी तो ये लोग हमला नहीं करते थे, लेकिन सुनसान इलाके में सिंगल मोटरसाइकिल को यह निशाना बनाते थे।

चारों अभियुक्त पांचवी और छठी पास हैं। उम्मीद छठवीं पास पुताई, पुट्टी का काम करता है। मोहित पांचवी पास कारपेंटर का काम करता है। अमित कुमार अचार कंपनी में काम करता है और प्रिंस मजदूरी का काम करता है। उम्मीद की बहन रुड़की क्षेत्र में रहती है, जिसके पड़ोस में मोहित रहता था जिससे इनकी आपस में दोस्ती हो गई। मोहित का दोस्त, अमित कुमार है जबकि प्रिंस, उम्मीद का सगा भांजा है। पुलिस ने सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनका चालान कर दिया है।

हिन्दुस्थान समाचार/ रजनीकांत/दधिबल

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story