देवभूमि में गरजे नड्डा, बोले- कांग्रेस राज में थी एक अनार सौ बीमार जैसी स्थिति

देवभूमि में गरजे नड्डा, बोले- कांग्रेस राज में थी एक अनार सौ बीमार जैसी स्थिति
देवभूमि में गरजे नड्डा, बोले- कांग्रेस राज में थी एक अनार सौ बीमार जैसी स्थिति


- ...जब पहली बार विधायक बने थे जेपी नड्डा, गर्मियों में गांव में घूमना था मुश्किल, घेर लेती थी जनता

देहरादून, 04 अप्रैल (हि.स.)। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि मैं भी पहाड़ से आता हूं। 1993 में मैं विधायक बना था। उस समय खंड विकास अधिकारी मेरे पास आया करता था और कहता था, नड्डा जी आपको एक खुशखबरी सुनानी है और बोला कि आपको इस वर्ष दो इंदिरा आवास योजना के घर मिले हैं एक पंचायत में, बताइए किसको दूं मैं। कांग्रेस राज में ऐसे ही एक अनार सौ बीमार जैसी स्थिति थी। जबकि प्रधानमंत्री मोदी ने चार करोड़ पक्के मकान बनवाए हैं।

...जब सुबह उठ पैदल जंगल की ओर निकल जाती थीं महिलाएं

नड्डा ने पिथौरागढ़ में जनसभा में महिलाओं से कहा कि क्या यह सच्चाई नहीं है कि आप लोग सुबह पांच बजे उठ जाया करती थीं। जंगलों में जाया करती थीं। लकड़ी काटकर लाया करती थीं और लकड़ी काटकर, सूखाकर चूल्हा जलाया करती थीं। 200 सिगरेट के बराबर अपने फेफड़े में धुआं लेती थीं और फूंकनी से फूंक-फूंक कर चूल्हा जलाती थीं। क्या यह सच है कि नहीं कहकर महिलाओं से जवाब मांगा तो हां की आवाज आई। उन्होंने कहा कि आज प्रधानमंत्री मोदी ने लकड़ी से चूल्हे से महिलाओं को मुक्त कर दिया है और उज्ज्वला योजना के तहत 11 करोड़ गैस के कनेक्शन दिए। उसमें एक लाख गैस कनेक्शन उत्तराखंड में दिए गए।

गर्मियों में विधायक होने के नाते मुझे घूमना मुश्किल हो जाता था। किसी गांव में जाओ तो महिलाएं पूछती थीं कि अब आया तू देख मेरे सर का हाल। बाल्टी उठाकर तीन-तीन किलोमीटर मैं पैदल नीचे जाती हूं, पानी लाती हूं, दिन के तीन घंटे निकल जाते हैं, तब जाकर घर में पानी देखती हूं। यह कहानी उत्तराखंड की थी कि नहीं थी कहकर लोगों से पूछा तो हां की आवाज आई। आज प्रधानमंत्री मोदी ने 11 करोड़ 1330 लाख लोगों को हर घर नल से जल पहुंचा दिया है। उत्तराखंड में 12 लाख घरों तो पिथौरागढ़ में दो लाख 40 हजार घरों में नल से जल पहुंचाया है।

पहले शौच के लिए सूर्योदय और सूर्यास्त का इंतजार करती थीं महिलाएं-

पहले महिलाएं शौच के लिए सूर्योदय और सूर्यास्त का इंतजार करती थीं। आज प्रधानमंत्री मोदी ने 11 करोड़ इज्जत घर बनाए। पांच लाख 30 हजार इज्जत घर बनवाए हैं। अब कोई भी बाहर शौच करने नहीं जाता।

मोदी ने हर गरीब को दी पांच लाख की स्वास्थ्य सुविधा-

देश में 40 प्रतिशत गरीबों की आबादी है। ऐसे 55 करोड़ गरीब लोगों प्रधानमंत्री मोदी ने हर वर्ष कभी भी किसी भी बीमारी से लड़ने के लिए आयुष्मान भारत योजना के तहत पांच लाख रुपये की व्यवस्था की है। आज कोई गरीब ऐसा नहीं है, जिसका बीमारी में इलाज नहीं हो रहा है। जबकि पहले कांग्रेस सरकार के पास पैसा ही नहीं होता था।

किसी ने सोचा नहीं होगा, पिथौरागढ़ में मेडिकल कालेज खुलेगा-

आज स्वास्थ्य बजट 250 से 500 करोड़ हो गया। किसी ने कभी सोचा था कि पिथौरागढ़ में मेडिकल कालेज खुलेगा, लेकिन आज मेडिकल कालेज खोले जा रहे हैं। उसी तरीके से पेयजल के लिए 1200 करोड़ रुपये खर्च हो रहा है। मनरेगा में 64 करोड़ रुपये खर्च हो रहा है। मोदी ने धामी को 41 हजार करोड़ रुपये सेंट्रल फंड दिया और विकास किया है।

हिन्दुस्थान समाचार/कमलेश्वर शरण/रामानुज

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story