भारी बारिश को देखते हुए अनावश्यक यात्रा करने से बचें लोग: जिलाधिकारी

भारी बारिश को देखते हुए अनावश्यक यात्रा करने से बचें लोग: जिलाधिकारी
भारी बारिश को देखते हुए अनावश्यक यात्रा करने से बचें लोग: जिलाधिकारी


भारी बारिश को देखते हुए अनावश्यक यात्रा करने से बचें लोग: जिलाधिकारी


भारी बारिश को देखते हुए अनावश्यक यात्रा करने से बचें लोग: जिलाधिकारी


भारी बारिश को देखते हुए अनावश्यक यात्रा करने से बचें लोग: जिलाधिकारी


चंपावत, 05 जुलाई (हि.स.)। जिले में हो रही लगातार भारी बारिश के मद्देनजर जिलाधिकारी नवनीत पाण्डे की ओर से जिला आपदा परिचालन केन्द्र व तहसील स्तर पर बने नियंत्रण कक्षों व विभागीय अधिकारियों से लगातार जानकारी ली जा रही है। उन्होंने सभी अधिकारियों को हाई अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं। जिलाधिकारी ने आमजन से भी अपील की है कि वह भारी बारिश को देखते हुए अनावश्यक यात्रा करने से बचें और सड़क मार्ग की जानकारी लेने के बाद ही यात्रा करें।

भारी बारिश के कारण विभिन्न मार्ग अवरुद्ध हो गए हैं, जिन्हें खोले जाने के लिए लगातार कार्य जारी है। राष्ट्रीय राजमार्ग 09 टनकपुर-चंपावत स्वाला-अमोड़ी के बीच (किलोमीटर 106 अंतर्गत) लगातार हो रही बारिश के कारण पहाड़ी से लगातार मलबा व पत्थर गिरने से बंद हो रहा है, जिसे खोलकर यातायात सुचारू किया जा रहा है, जो पुनः मलबा, पत्थर आने से बंद हो जा रहा है, जिसे खोले जाने के लिए दोनों तरफ से जेसीबी व पोकलैंड मशीन तैनात की गई हैं, मार्ग खोले जाने का कार्य लगातार जारी है। मौके पर एनएच के अधिकारी भी मौजूद रहकर मार्ग को खुलवाने का कार्य कर रहे हैं। शुक्रवार को एनएच बंद हो जाने के कारण मार्ग में फसे यात्रियों को जिला प्रशासन द्वारा चाय, पानी, बिस्कुट आदि की व्यवस्था कर वितरण किया गया।

जिलाधिकारी नवनीत पांडे ने राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों को तेजी से कार्य करते हुए बंद मार्ग को शीघ्र खोलने एवं यातायात को सुचारू करने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने कहा कि मार्ग को खोले जाने में सुरक्षा का भी ध्यान रखा जाय। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने इस सम्बंध में सभी सड़क निर्माण एजेंसियों, राष्ट्रीय राजमार्ग, लोक निर्माण विभाग, ग्रामीण निर्माण विभाग तथा पीएमजीएसवाई को अलर्ट मोड में रहते हुए रिस्पांस समय को कम करते हुए बंद सड़कों को त्वरित खोले जाने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने समस्त उपजिलाधिकारियों, खण्ड विकास अधिकारियों तथा सभी तहसीलदारों को निर्देश दिए कि वह क्षेत्र में पैनी नजर बनाए रखें। किसी भी प्रकार की घटना पर तत्काल बचाव एवं राहत कार्य सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी पटवारियों, ग्राम विकास व ग्राम पंचायत विकास अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में बने रहने के साथ ही समस्त थानों, चौकी को भी अलर्ट रहने के निर्देश दिए।

हिन्दुस्थान समाचार/राजीव मुरारी/सत्यवान/वीरेन्द्र

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story