जिलाधिकारी ने किया मार्ग का निरीक्षण, अतिक्रमण हटाने के दिए निर्देश

जिलाधिकारी ने किया मार्ग का निरीक्षण, अतिक्रमण हटाने के दिए निर्देश


हरिद्वार, 25 नवंबर (हि.स.)। जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय ने पुराने एआरटीओ चौक से लेकर भारत माता मंदिर तक सप्त सरोवर मार्ग का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी को अतिक्रमण को सख्ती के साथ हटाने की कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को अतिक्रमण हटाने के बाद तत्काल मोटर मार्ग के चौड़ीकरण के लिए इस्टीमेट तैयार करने के निर्देश दिए।

शुक्रवार को जिलाधिकारी ने पुराने एआरटीओ चौक पर सिंचाई विभाग की भूमि पर लीज की अवधि समाप्त होने बावजूद अब तक अवैध कब्जा नहीं हटाने पर उपजिलाधिकारी पूरण सिंह राणा को निर्देश दिये कि विभाग की भूमि को प्राथमिकता के आधार पर कब्जे में लें। इसके उपरान्त उन्होंने सिंचाई विभाग द्वारा पार्किंग हेतु लीज पर दी गयी भूमि पर व्यवस्थित तरीके से पार्किंग का संचालन व साफ-सफाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। सप्त सरोवर मार्ग के दोनों ओर की ड्रेनेज लाइन के ऊपर अवैध तरीके से बनायी गयी दुकानों की 24 घण्टे के भीतर नाप-झोक करते हुए अतिक्रमण हटाने के निर्देश दियें। अतिक्रमण हटाने के बाद मार्ग का चौड़ीकरण व डामरीकरण करवाने के लिए उन्होंने सम्बन्धित अधिकारी को सड़क के चौड़ीकरण व डामरीकरण का आगणन तैयार करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने स्पष्ट किया कि हरिद्वार शहर की बेहतरी के लिए अतिक्रमण हटाओ अभियान को सख्ती से आगे बढ़ाया जायेगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि कुछ ही दिन बाद सप्त सरोवर मार्ग की स्थिति व तस्वीर बदल जायेगी, जिससे मार्ग पर वाहनों का आवागमन निर्बाध रूप से हो सकेगा। उन्होंने कहा कि 15 से 20 दिन पहले अवैध अतिक्रमण की पैमाइश की गयी थी इसके साथ ही अतिक्रमणकारियों को स्वयं अतिक्रमण हटाने व बल पूर्व हटाये जाने के दो विकल्प दिये गये थे जिसका असर मौके पर दिखाई भी दे रहा है। उन्होंने उपजिलाधिकारी व एसपी सीटी को निर्देश दिये कि जो अतिक्रमणकारी अवैध अतिक्रमण को नहीं हटा रहें हैं उन्हें 24 घण्टें की अन्तिम चेतावनी देकर आवश्यक कार्यवाही करें।

हिन्दुस्थान समाचार/ रजनीकांत

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story