मां भगवती समस्त चराचर की आधारभूत हैं: विश्वेश्वरानंद महाराज

WhatsApp Channel Join Now


हरिद्वार, 7 जुलाई (हि.स.)। श्री सूरत गिरि बंगला गिरीशानदं आश्रम के परमाध्यक्ष महामण्डलेश्वर आचार्य स्वामी विश्वेश्वरानंद गिरि महाराज ने कहा कि मां भगवती समस्त चराचर की आधारभूत हैं। उन्हीं की माया से संसार का चक्र चलता है। शक्ति के बिना शक्तिमान की कल्पना भी नहीं की जा सकती।

विश्वेश्वरानंद गिरि महाराज ने श्रीमद् देवी भागवत कथा के दौरान श्रद्धालु भक्तों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रत्येक काल में शत्रुओं और दानवों का नाश करने के लिए शक्ति की उपासना का वर्णन मिलता है। चाहे देव हों या मनुष्य रूप में परमात्मा का अवतार या फिर मनुष्य, संकट आने पर सभी ने शक्ति का आह्वान किया और विजय प्राप्त की। उन्होंने कहा कि शक्ति समस्त चराचर में व्याप्त होते हुए भी अदृश्यमान है। व्यक्ति में सोचने की शक्ति, बल की शक्ति, धन की शक्ति आदि सभी में शक्ति समाहित है। बिना शंक्ति के कुछ भी संभव नहीं हैं। शक्ति के कारण ही शक्तिमान होता है। उन्होंने आषाढ़ मास के गुप्त नवरात्र में श्रीमद् देवी भागवत परायण को अत्यंत श्रेष्ठ बताते हुए सभी के कल्याण की कामना की।

इस अवसर पर मनोज कौशिक, सुमन शर्मा, मधुप शर्मा, आशा शर्मा, मुकेश कौशिक, पूनम शर्मा, शिवांश शर्मा, स्नेहा शर्मा, रामानंद, अचिन, निपुण, ललित मोहन, बबीता, आयुष शर्मा, माधव शर्मा, अजय शर्मा, पिंकी शर्मा, अन्नी शर्मा आदि मौजूद रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/ रजनीकांत/वीरेन्द्र

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story