12 जून से दक्षिण राजस्थान में शुरू हो जाएगी प्री मानसून बारिश की गतिविधियां

12 जून से दक्षिण राजस्थान में शुरू हो जाएगी प्री मानसून बारिश की गतिविधियां
12 जून से दक्षिण राजस्थान में शुरू हो जाएगी प्री मानसून बारिश की गतिविधियां


जयपुर, 9 जून (हि.स.)। प्रदेश में आगामी दिनों में प्री मानसून की बारिश का दौर शुरू हो जाएगा। 12 जून से साउथ राजस्थान के कोटा और उदयपुर डिवीजन में प्री मानसूनी गतिविधियां शुरू हो जाएगी। उत्तरी राजस्थान में 16 से 18 जून के बीच प्री मानसूनी गतिविधियां शुरू होने की संभावना है। मौसम विभाग ने 20 से 25 जून के बीच प्रदेश में मानसून के दस्तक देने की बात कहीं है। प्रदेश में रविवार को जालौर का दिन और धौलपुर की शनिवार रात सबसे गर्म रही। जालौर का अधिकतम तापमान 43.7 और धौलपुर तथा फलौदी का न्यूनतम तापमान 32.2 डिग्री दर्ज किया गया। बारिश की गतिविधियों में कमी आने से रविवार को प्रदेश के कई शहरों के पारे में बढ़ोतरी दर्ज की गई।

मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार से प्रदेश में प्री-मानसून की बारिश शुरू हो जाएगी। दक्षिण-पूर्वी राजस्थान के कोटा, उदयपुर संभाग के 6 जिलों (उदयपुर, प्रतापगढ़, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, बांसवाड़ा और झालावाड़) में 12 जून से प्री मानसून की बारिश शुरू हो जाएगा। हालांकि आगामी दो-तीन दिन जयपुर सहित कई अन्य संभागों में हल्की से मध्यम बारिश का दौर चलता रहेगा। मंगलवार से उत्तरी राजस्थान में बारिश की गतिविधियों में कमी देखने को मिलेगी।

मौसम विभाग के अनुसार आगामी दिनों में राज्य के अधिकांश भागों में बारिश की गतिविधियों में कमी होने की संभावना है। हालाांकि दक्षिणी राजस्थान के कुछ भागों में बारिश की गतिविधियां जारी रहने की संभावना है। आगामी दिनों में राज्य के अधिकांश भागों में तापमान में विशेष परिवर्तन नहीं होने की संभावना है। शनिवार को सबसे ज्यादा बारिश जैसलमेर में 28.2 मिमी दर्ज की गई वहीं डबोक उदयपुर में 25.3 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई7

जयपुर मौसम केन्द्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि मानसून अब महाराष्ट्र में प्रवेश कर चुका है। इसके साथ आने वाली नमी वाली हवा का अब प्रभाव मध्य प्रदेश के साथ राजस्थान के दक्षिणी हिस्सों में धीरे-धीरे बढ़ना शुरू होगा। इन हवा से होने वाली बारिश को प्री-मानसून की बारिश कहा जाएगा।

अभी इन राज्यों में मानसून की एंट्री

मौसम केन्द्र नई दिल्ली के अनुसार केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, गोवा के अलावा पूर्वोत्तर राज्यों में मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, त्रिपुरा, असम, अरूणाचल प्रदेश और सिक्किम में मानसून प्रवेश कर चुका है। सामान्यतः केरल में मानसून आने के 25 दिन बाद राजस्थान में एंट्री होती है। संभावना है कि राजस्थान में 20 से 25 जून तक मानसून की एंट्री हो सकती है।

जयपुर का पारा बढ़ा, थम जाएगा बारिश का दौर

रविवार को जयपुर के पारे में बढ़ोतरी दर्ज की गई। जयपुर के दिन के पारे में एक तो वहीं रात के पारे में 2 डिग्री से ज्यादा की बढोतरी दर्ज की गई। जयपुर का अधिकतम तापमान 42 और न्यूनतम तापमान 30.6 डिग्री दर्ज किया गया। आगामी समय में जयपुर में बारिश की गतिविधियों में कमी आएगी और पारे में हल्की बढोतरी दर्ज की जाएगी। 16 जून के बाद जयपुर में प्री मानसून की बारिश का दौर शुरू हो सकता है।

हिन्दुस्थान समाचार/ राजेश मीणा/ईश्वर

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story