सादुल स्पोर्ट्स स्कूल में हैंडबॉल और बास्केटबाल के सिंथेटिक कोर्ट का शिलान्यास



सादुल स्पोर्ट्स स्कूल में हैंडबॉल और बास्केटबाल के सिंथेटिक कोर्ट का शिलान्यास


बीकानेर, 19 मार्च (हि.स.)। शिक्षा मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने रविवार को सादुल स्पोर्ट्स स्कूल में हैंडबॉल और बास्केटबाल के सिंथेटिक कोर्ट का शिलान्यास किया। हैंडबॉल कोर्ट 33.59 तथा बास्केटबॉल कोर्ट पर 26.64 लाख सहित कुल 60.23 लाख रुपये व्यय होंगे।

इस अवसर पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा स्पोर्ट्स स्कूल में अंतरराष्ट्रीय मानकों की खेल सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं। खेल प्रशिक्षकों का दायित्व है कि वे युवा खिलाड़ियों को बेहतर प्रशिक्षण दें, जिससे यहां के खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्कूल का नाम रोशन कर सकें। उन्होंने बताया कि यहां 54 लाख रुपये की लागत से क्रिकेट मैदान तथा 8 करोड़ 61 लाख रुपये की लागत से सिंथेटिक एथलेटिक ट्रेक तैयार होगा। उन्होंने यहां साइक्लिंग, कुश्ती और तीरंदाजी की संभावनाएं तलाशने के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि यहां अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्विमिंग पूल बनाने के प्रस्ताव भी दिए जाए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा खेलों से जुड़ी सभी सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं। ऐसे में युवाओं का दायित्व है कि वे लक्ष्य निर्धारित करते हुए अथक परिश्रम करें, जिससे उन्हें बेहतर सफलता प्राप्त हो सके। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा खेलों को प्रोत्साहित करने के लिए ऐतिहासिक निर्णय लिए गए हैं। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पदक हासिल करने वाले खिलाड़ियों को करोड़ों रुपए प्रोत्साहन स्वरूप दिए जा रहे हैं। वहीं सरकारी नौकरियों में खेलों का कोटा निर्धारित किया गया है। उत्कृष्ट खिलाड़ियों को आउट ऑफ टर्न नौकरी दी जा रही है। उन्होंने बताया कि स्कूल के लिए 12 नए खेल सहायक के पद स्वीकृत किए गए हैं तथा प्रशिक्षकों की डीपीसी के प्रस्ताव आरपीएससी को भिजवाए गए हैं। इस अवसर पर उन्होंने डॉ.करणी सिंह, मगन सिंह राजवी, नरसिंह दास किराडू और रामदेव किराडू के खेलों के विकास के योगदान को याद किया था कहा कि नए खिलाड़ी इन के पदचिन्हों का अनुसरण करते हुए आगे बढ़ें।

शिक्षा निदेशक गौरव अग्रवाल ने बताया कि स्कूल में 12 खेलों की कक्षाएं चलती हैं तथा कुल 244 खिलाड़ी पंजीकृत हैं। उन्होंने कहा कि सिंथेटिक कोर्ट निर्माण कार्य निर्धारित समयावधि में पूर्ण कर लिया जाए।

स्कूल के प्रधानाचार्य अजयपाल सिंह शेखावत ने स्वागत उद्बोधन दिया तथा स्कूल की गतिविधियों के बारे में बताया। शिक्षा निदेशालय के वित्तीय सलाहकार संजय धवन बतौर अतिथि मौजूद रहे। मोहन जीनगर ने आभार जताया।

इससे पहले शिक्षा मंत्री ने दोनों सिंथेटिक कोर्ट का शिलान्यास किया। उन्होंने सादुल स्पोर्ट्स स्कूल की जिम का अवलोकन किया तथा यहां चल रहे कुश्ती के मुकाबले को देखा। उन्होंने खिलाड़ियों की हौसला अफजाई भी की।

हिन्दुस्थान समाचार/राजीव/संदीप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story