इंडी गठबंधन के पास ना ही कोई नीति है, ना ही नेता है और ना ही नियत है - मुकेश दाधीच

इंडी गठबंधन के पास ना ही कोई नीति है, ना ही नेता है और ना ही नियत है - मुकेश दाधीच
इंडी गठबंधन के पास ना ही कोई नीति है, ना ही नेता है और ना ही नियत है - मुकेश दाधीच


जयपुर, 1 अप्रैल (हि.स.)। भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष मुकेश दाधीच ने आज भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्यालय पर प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए ‘‘इंडी गठबंधन’’ को बिना नेता, नीति और नियत वाला बताया। मुकेश दाधीच ने कहा कि कल दिल्ली में इंडी गठबंधन की जो रैली हुई उसका उद्देश्य भ्रष्टाचारियों को बचाना था। इस रैली को लेकर भी इस गठबंधन में एकराय नहीं थी। आम आदमी पार्टी ने कहा कि यह रैली केजरीवाल के समर्थन में रैली हुई है,जबकि कांग्रेस कह रही थी कि यह रैली किसी व्यक्ति विशेष के लिए नहीं है ये तो गठबंधन की रैली है। इसलिए मुझे यह कहने में कतई संकोच नहीं है कि इस गठबंधन के पास ना तो कोई नेता है, ना नीति है और ना ही इनके पास नेक नियत है।

भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष मुकेश दाधीच ने प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि राजनीति में जब राजनीतिक पार्टियों के बीच गठबंधन होता है तो सीटों के बंटवारे को लेकर एक फॉर्मूला बनता है, लेकिन इस गठबंधन में ऐसा कुछ नहीं है। इंडी एलायंस की एक नेता पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कांग्रेस पर आरोप लगाती हैं कि कांग्रेस भाजपा को चुनाव जितवा रही है, तो वहीं आम आदमी पार्टी दिल्ली में इनके साथ होती है पंजाब में गठबंधन से मना कर देती है। कांग्रेस को लोकसभा चुनाव के लिए यूपी के अमेठी और रायबरेली में उम्मीदवार ही नहीं मिल रहा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2014 में कहा था कि ‘‘ना खाऊंगा ना खाने दूंगा’’ उसी संकल्प के साथ भाजपा ने जांच एजेंसियों को स्वतंत्र रूप से काम करने का मौका दिया है। जब एजेंसियां भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई कर रही हैं तो भ्रष्टाचारियों के पेट में दर्द हो रहा है।

भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष मुकेश दाधीच ने कहा कि इंडी गठबंधन के नेताओं के चरित्र की बात करें तो कोई नेता बेल पर है, तो कोई पैरॉल पर, तो किसी पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश की 140 करोड़ लोगों की सेवा करने के लिए कृत संकल्पित हैं। 2014 के बाद देश को तीन तरह से नई दिशा देने का काम किसी ने किया है तो वह नरेन्द्र मोदी हैं, जिन्होने पहली बार देश में विकास के नाम पर वोट मांगना, गरीबों का कल्याण करना, राष्ट्रीय स्वाभिमान को जगाना, विकसित भारत का विजन, गरीबों के जीवन को सरल बनाया है। भाजपा का एक ही चेहरा है और वह है प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी। हम 2024 के लोकसभा चुनाव में जनता के बीच इन्ही मुद्दों को लेकर जाएंगेे और अबकी बार 400 पार के नारे को साकार करेंगे।

हिन्दुस्थान समाचार/ इंदु/संदीप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story