जयपुर में आंधी के साथ तेज बारिश, गर्मी और उमस से मिली राहत

जयपुर में आंधी के साथ तेज बारिश, गर्मी और उमस से मिली राहत


जयपुर, 11 जुलाई (हि.स.)। राजधानी में शाम को अचानक मौसम बदला और आंधी के साथ मध्यम से तेज बारिश हुई। इससे आमजन को गर्मी और उमस से राहत मिली। जयपुर में दिनभर धूप खिली, इसके चलते लोग दिनभर गर्मी और उमस से परेशान नजर आए। जयपुर के दिन के पारे में 2.5 और 0.6 डिग्री बारिश की बढ़ोतरी दर्ज की गई। जयपुर का अधिकतम तापमान 38.5 और न्यूनतम तापमान 28.6 डिग्री दर्ज किया गया। बारिश के बाद शहर में सड़कों पर पानी भर गया, इससे वाहन चालकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। इसके अलावा जयपुर के अलावा करीब एक दर्जन शहरों में हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की गई। सबसे ज्यादा बारिश सिरोही के रेवदर में 37 मिमी बारिश दर्ज की गई। इसके अलावा कोटा के कनवास में 25 और शाहपुरा के पारौली में 35 मिमी बारिश दर्ज की गई।

अगले सप्ताह में फिर शुरू होगा झमाझम बारिश का दौर

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि राज्य में आगामी एक सप्ताह सामान्य से कम बारिश की संभावना है। वहीं अगले सप्ताह में सामान्य से अधिक बारिश होने की प्रबल संभावना है। मानसून ट्रफ लाइन बीकानेर, जयपुर से होकर गुजर रही है। इसके प्रभाव से गुरुवार को उदयपुर, कोटा, जयपुर, भरतपुर व बीकानेर संभाग के कुछ भागों में मेघगर्जन के साथ बारिश दर्ज की गई।जोधपुर संभाग के अधिकांश भागों में मौसम मुख्यतः शुष्क रहने की संभावना है। 12 जुलाई से मानसून ट्रफ लाइन के हिमालय की ओर शिफ्ट होने से राज्य के अधिकांश भागों में आगामी तीन-चार दिन पश्चिमी हवाओं के प्रभावी होने तथा बारिश की गतिविधियों में कमी होने की प्रबल संभावना है। पूर्वी राजस्थान के कुछ भागों में 16 जुलाई से पुनः मानसून सक्रिय होने तथा बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होने की संभावना है। बुधवार को राज्य में कुछ स्थानों पर मेघगर्जन के साथ हल्के से मध्यम वर्षा तथा टोंक जिले में कहीं-कहीं भारी वर्षा दर्ज की गई है। पूर्वी राजस्थान में सर्वाधिक बारिश टोंक में नागरफोर्ट में 66 मिमी व पश्चिमी राजस्थान के आहोर, जालौर में 47 मिमी बारिश दर्ज की गई है।

बिजली गिरने से दो की मौत

भीलवाड़ा में बुधवार शाम बिजली गिरने से 2 लोगों की मौत हो गई। वहीं पाली जिले के सरायता गांव में एसीबी में तैनात सब इंस्पेक्टर मोतीलाल के मकान पर सुबह 6:45 बजे बिजली गिर गई। इससे कमरे की दीवार में दरार आ गई और घर के बिजली उपकरण जल गए। बिजली गिरने से ड्रेसिंग टेबल का शीशा टूट गया और उसमें रखा सामान नीचे गिर गया। हालांकि, परिवार के लोगों को कोई चोट नहीं आई है।

8 शहरों का पारा 40 पार, चूरू का दिन-बीकानेर की रात सबसे गर्म

बारिश की गतिविधियों में कमी आने से प्रदेश के शहरों के पारे में उछाल आने लगा है। गुरुवार को प्रदेश के आठ शहरों का दिन का पारा 40 तो वहीं चार शहरों का रात का पारा 30 पार दर्ज किया गया। 42.5 डिग्री के साथ चूरू का दिन और 32.5 डिग्री के साथ बीकानेर की रात सबसे गर्म रही। चूरू के अलावा पिलानी, बाड़मेर, जैसलमेर, बीकानेर, श्रीगंगानगर, संगरिया और फतेहपुर का दिन का तापमान 40 पार तो वहीं बीकानेर के अलावा जोधपुर, जैसलमेर और चूरू का रात का पारा 30 पार दर्ज किया गया।

हिन्दुस्थान समाचार / राजेश कुमार मीना / ईश्वर

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story