जगन्नाथपुरी और रामेश्वरम के लिए निकली पैदल यात्रा अब अंतिम चरण में , 16 फरवरी तक पहुंचेगी रामेश्वरम

जगन्नाथपुरी और रामेश्वरम के लिए निकली पैदल यात्रा अब अंतिम चरण में , 16 फरवरी तक पहुंचेगी रामेश्वरम
जगन्नाथपुरी और रामेश्वरम के लिए निकली पैदल यात्रा अब अंतिम चरण में , 16 फरवरी तक पहुंचेगी रामेश्वरम


जोधपुर, 13 फरवरी (हि.स.)। जोधपुर से जगन्नाथपुरी और रामेश्वरम के लिए निकली पैदल यात्रा अब अंतिम चरण में हैं। श्री दिगम्बर नागराज पुरी महाराज के सानिध्य में यात्रा अब तमिलनाडु में पहुंच चुकी है। यात्रा 16 फरवरी तक रामेश्वरम पहुंचेगी।

यात्रा जोधपुर से 24 दिसम्बर को रवाना हुई थी, जो 28 दिन और 19 घंटे में करीब दो हजार किलोमीटर का पैदल सफर तय कर 21 जनवरी को जगन्नाथपुरी धाम पहुंची थी। यहां से रामेश्वरम के लिए रवाना हुई थी। केसरसिंह ने बताया कि सनातन धर्म के प्रचार और युवाओं को संस्कारों व हिंदू संस्कृति के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से जोधपुर के पंचकुंड स्थित श्रीऔघडऩाथ महादेव पर्यावरण विकास संस्थान के बैनर तले जुना अखाड़े के दिगम्बर नागराज पुरी के सानिध्य में यह यात्रा रवाना हुई थी। यात्रा का जगह-जगह पर स्वागत किया जा रहा है। दक्षिण के राज्यों में पहुंचने पर मारवाड़ के प्रवासियों ने उत्साह के साथ पलक पांवड़े बिछाते हुए यात्रा में शामिल हुए। बता दे कि ओगडऩाथ महादेव मंदिर पर्यावरण समिति ने पिछले साल 35 दिन में चार धाम की पैदल यात्रा की थी। इससे पहले 2021 में पैदल यात्रा जत्था जोधपुर से द्वारका गया था। यात्रा 16 दिन और 2 घंटे में यात्रा को पूरा किया।

हिन्दुस्थान समाचार/सतीश/संदीप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story