स्कूल में महिला कर्मचारी ने छात्रों से धुलवाए पैर, निलंबित करने की मांग

स्कूल में महिला कर्मचारी ने छात्रों से धुलवाए पैर, निलंबित करने की मांग


सिरोही, 3 अप्रैल (हि.स.)। सिरोही के पिंडवाड़ा तहसील के वाटेरा गांव के राजकीय उच्च माध्यमिक स्कूल में एक महिला कर्मचारी ने छात्रों से अपने पैर धुलवाए। इसका वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो सामने आने के बाद आक्रोशित परिजन स्कूल पहुंचे और जमकर हंगामा किया। परिजनों का कहना है कि चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी किस अधिकार से उनके बच्चों से पैर धुलवा रही है। परिजनों का आरोप है कि इस मामले को लेकर स्कूल प्रशासन खामोश है। बताया जा रहा है कि जब पैर धुलवाए जा रहे थे, तब 15-16 छात्र मौजूद थे।

परिजनों ने बताया कि मंगलवार शाम वीडियो सामने आने के बाद पैर धो रहा नवीं क्लास का छात्र मानसिक तनाव में आ गया। परिजनों ने स्कूल प्रशासन से चतुर्थ श्रेणी महिला कर्मचारी को निलंबित करने की मांग की है। वीडियो सामने आने के बाद स्कूल प्रशासन सफाई देने में जुटा है। प्रधानाचार्य रामलाल का कहना है कि यह ब्यूटीशियन कोर्स का एक हिस्सा है। छात्रों को कोर्स की ट्रेनिंग दी जा रही थी। जिला शिक्षा अधिकारी हनीफ खां ने बताया कि ब्यूटीशियन कोर्स का एक हिस्सा है। इस बारे में जांच की जा रही है कि छात्रों से चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी महिला पैर क्यों धुलवा रही है। जांच के बाद मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी। राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत प्रदेश के स्कूलों में कक्षा 9 से व्यवसायिक कोर्स संचालित किया जा रहा है। योजना के मुताबिक, स्टूडेंट्स को स्कूली पाठ्यक्रम के साथ-साथ व्यवसायिक कोर्सेज से जोड़ा जा रहा है ताकि वे उच्च शिक्षा नहीं लेने पर भी रोजगार कर सकें। इनमें ब्यूटीशियन, पेशेंट केयर, आईटी, ऑटोमोबाइल जैसे कोर्स का प्रशिक्षण दिया जाता है। प्रशिक्षण के बाद अन्य विषयों की तर्ज पर परीक्षा भी होती है।

हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story