एसकेआरएयू का दीक्षांत समारोह : उपाधि देने के साथ राज्यपाल करेंगे संविधान पार्क, नवनिर्मित छात्रावास, उच्च जलाशय का लोकार्पण

एसकेआरएयू का दीक्षांत समारोह : उपाधि देने के साथ राज्यपाल करेंगे संविधान पार्क, नवनिर्मित छात्रावास, उच्च जलाशय का लोकार्पण
एसकेआरएयू का दीक्षांत समारोह : उपाधि देने के साथ राज्यपाल करेंगे संविधान पार्क, नवनिर्मित छात्रावास, उच्च जलाशय का लोकार्पण


बीकानेर, 10 जून (हि.स.)। स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय का 20 वां दीक्षांत समारोह 11 जून को विश्वविद्यालय परिसर स्थित विद्या मंडल सभागार में दोपहर 12 बजे से आयोजित किया जाएगा। समारोह के मुख्य अतिथि राज्यपाल एवं कुलाधिपति कलराज मिश्र होंगे। विशिष्ट अतिथि कृषि मंत्री डॉ. किरोड़ी लाल मीणा तथा स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो.बी.आर.छींपा एवं दीक्षांत अतिथि केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय इम्फाल के पूर्व कुलाधिपति व कृषि वैज्ञानिक चयन मंडल नई दिल्ली के पूर्व अध्यक्ष पद्मभूषण प्रो.राम बदन सिंह होंगे। राज्यपाल एयरपोर्ट से सीधे कृषि विश्वविद्यालय 11.45 पर पहुंचेगे।

कुलपति डॉ अरुण कुमार ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह जानकारी दी। प्रेस कॉन्फ्रेंस में कुलसचिव डॉ देवा राम सैनी, अनुसंधान निदेशक डॉ. पीएस शेखावत, आईएबीएम निदेशक डॉ. आई पी सिंह. प्रसार निदेशक डॉ सुभाष चंद्र, परीक्षा नियंत्रक डॉ. राजेन्द्र सिंह राठौड़, उपनिदेशक प्रसार डॉ. राजेश कुमार वर्मा, कृषि विश्वविद्यालय पीआरओ सुरेश बिश्नोई उपस्थित रहे।

कुल 1569 विद्यार्थियों को प्रदान की जाएगी उपाधी

प्रेस कॉन्फ्रेंस में कुलपति डॉ अरुण कुमार ने बताया कि दीक्षांत समारोह में राज्यपाल एवं कुलाधिपति द्वारा कृषि विश्वविद्यालय के अंतर्गत कृषि संकाय व सामुदायिक विज्ञान संकाय के स्नातक ( यूजी) 2022-23 एवं आईएबीएम, कृषि संकाय व सामुदायिक विज्ञान संकाय के स्नातकोत्तर (पीजी) व विद्या-वाचस्पति (पीएचडी) के 1 जुलाई 2022 से 31 दिसंबर 2023 तक पास हुए कुल 1569 विद्यार्थियों को उपाधी प्रदान की जाएंगी। उनमें से 1245 छात्र और 324 छात्राएं शामिल हैं। कुल 1569 विद्यार्थियों में से स्नातक के 1346, स्नातकोत्तर के 194 और विद्यावाचस्पति के 29 विद्यार्थियों को उपाधी प्रदान की जाएगी।

19 विद्यार्थियों को स्वर्ण पदक व 03 विद्यार्थियों को कुलाधिपति स्वर्ण पदक -

कुलपति ने बताया कि समारोह में 19 विद्यार्थियों को स्वर्ण पदक और 03 विद्यार्थियों को कुलाधिपति स्वर्ण पदक से सम्मानित किया जाएगा। समारोह में स्वर्ण पदक प्राप्त करने वाले 19 विद्यार्थियों में से स्नातक के 02, स्नातकोत्तर के 17 और विद्यावाचस्पति का 01 विद्यार्थी शामिल है। खास बात ये कि पहली बार विद्यावाचस्पति विद्यार्थी को भी स्वर्ण पदक प्रदान किया जाएगा। इसी प्रकार पहली बार स्नातक विद्यार्थी को कुलाधिपति स्वर्ण पदक प्रदान किया जा रहा है।

इन 19 विद्यार्थियों को मिलेगा स्वर्ण पदक-

कुलपति ने बताया कि जिन विद्यार्थियों को स्वर्ण पदक प्रदान किया जाएगा उनमें स्नातक के विद्यार्थी अंकुश कुमार व कुमारी यामिनी सारस्वत है। वहीं स्नातकोत्तर के 17 विद्यार्थियों में सत्र 21-22 की स्नातकोत्तर कृषि की छात्रा अनुराधा यादव, रश्मि रेखा, अनुज गोदारा, सुमित्रा कुमावत, एडलिन प्राजुला जे जी, आशा कुमारी, नायकोटी रागिणी व सत्र 2022-23 के अंतर्गत स्नातकोत्तर कृषि की छात्रा कुमारी संपत चौधरी, हिमानी, अंकिता, पूजा सिहाग, सिद्धार्थ राजपूत, प्रज्जवल बिश्नोई, नितिन कुमार ए, यशवंत सिंह राठौड़, जम्मु शर्मिला शामिल हैं। कुलपति ने बताया कि कुलाधिपति स्वर्ण पदक पाने वाले विद्यार्थियों में सत्र 2021-22 अंतर्गत स्नातकोत्तर कृषि की छात्रा एडलिन प्राजुला जे जी व सत्र 2022-23 अंतर्गत स्नातक कृषि के छा्त्र अंकुश कुमार व स्नातकोत्तर कृषि के छात्र प्रज्जवल बिश्नोई शामिल हैं।

राज्यपाल करेंगे विभिन्न लोकार्पण

कुलपति ने बताया कि राज्यपाल एवं कुलाधिपति कलराज मिश्र कृषि विश्वविद्यालय परिसर में विद्या मंडप के पास 6.5 लाख की लागत से नवनिर्मित संविधान पार्क, कृषि महाविद्यालय में 1 करोड़ की लागत से नवनिर्मित भारत रत्न डॉ एम.एस.स्वामीनाथन छात्रावास व 35 लाख की लागत से निर्मित उच्च जलाशय का लोकार्पण करेंगे।

कृषि ज्ञान रथ को हरी झंडी दिखाकर करेंगे रवाना-

राज्यपाल कृषि ज्ञान रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। ये कृषि ज्ञान रथ एसकेआरएयू के अंतर्गत आने वाले सातों कृषि विज्ञान केन्द्रों ( बीकानेर, लूणकरणसर, पदमपुर, चांदगोठी, पोकरण, जैसलमेर और झुंझुनूं) में सात-सात दिन तक रहेंगे और प्रत्येक गांव में जाएंगे। कृषि ज्ञान रथ में मिट्टी व पानी की जांच की व्यवस्था के अलावा उन्नत कृषि प्रदर्शनी लगाई गई है। साथ ही कृषि वैज्ञानिक किसानों को विभिन्न फसलों, बागवानी व पशुपालन संबंधी विभिन्न विधाओं पर जानकारी देंगे।

दो पुस्तकों का करेंगे विमोचन-

इसके अलावा राज्यपाल कृषि विश्वविद्यालय के आईएबीएम( इंस्टिट्यूट ऑफ एग्री बिजनेस मैनेजमेंट) द्वारा प्रकाशित पुस्तक ''कृषि व्यवसाय- प्रबंधकीय परिप्रेक्ष्य में'' ( लेखक- डॉ सत्यवीर सिंह मीणा, डॉ अमिता शर्मा, डॉ अदिति माथुर) व कृषि महाविद्यालय बीकानेर द्वारा प्रकाशित पुस्तक ''बीज विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के सिद्धांतों पर पाठ्य पुस्तक'' (लेखक- डॉ सुजीत कुमार यादव, कुमारी शौर्य सिंह, कुमारी सृजन यादव, डॉ अरुण कुमार) का विमोचन करेगे।

मानद उपाधि करेंगे प्रदान-

समारोह में राज्यपाल द्वारा केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय इम्फाल के पूर्व कुलाधिपति व कृषि वैज्ञानिक चयन मंडल नई दिल्ली के पूर्व अध्यक्ष पद्मभूषण प्रो.आऱ.बी.सिंह व स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो.बी.आर.छींपा को डॉक्टरेट ऑफ साइंस की मानद उपाधि प्रदान की जाएगी।

हिन्दुस्थान समाचार/राजीव/ईश्वर

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story