कालिका माता के दर्शन कर आंजना ने दाखिल किया नामांकन, बोेले-किसानाें के लिए लड़ूंगा चुनाव

कालिका माता के दर्शन कर आंजना ने दाखिल किया नामांकन, बोेले-किसानाें के लिए लड़ूंगा चुनाव
कालिका माता के दर्शन कर आंजना ने दाखिल किया नामांकन, बोेले-किसानाें के लिए लड़ूंगा चुनाव


कालिका माता के दर्शन कर आंजना ने दाखिल किया नामांकन, बोेले-किसानाें के लिए लड़ूंगा चुनाव


चित्तौड़गढ़, 04 मार्च (हि.स.)। लोकसभा सीट चित्तौड़गढ़ से कांग्रेस प्रत्याशी उदयलाल आंजना ने गुरुवार को नामांकन दाखिल किया। इससे पहले उन्होंने कालिका माता के दर्शन किये और पूजा-अर्चना के बाद शुभ मुहूर्त में 11.15 बजे पर्चा दाखिल किया। आंजना ने तीन सेट में नामांकन दाखिल किया है। इस दौरान उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में जो स्थितियां है वो किसी से छुपी हुई नहीं है। लेकिन वे स्थानीय मद्दों पर चुनाव मैदान में उतरेंगे और खास तौर पर किसानों के लिए चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि अफीम किसानों के मुद्दे हो या सीपीएस पद्धति का मामला या फिर किसानों को एमएसपी की गारंटी दिलाना हो। यह मुद्दे चुनाव के केन्द्र में रहेंगे।

इससे पहले वे निम्बाहेड़ा से जिला कांग्रेस कार्यालय पहुंचे और वहां से दुर्ग स्थित कालिका माता मंदिर में जाकर पूजा अर्चना की। इस दौरान उनके साथ पूर्व जिलाध्यक्ष शिवदयाल शर्मा, डेयरी चेयरमैन बद्रीलाल जाट, प्रमोद सिसोदिया, अरविन्द ढीलीवाल आदि मौजूद थे। नामांकन में कांग्रेस जिलाध्यक्ष, पूर्व विधायक सुरेन्द्र सिंह जाड़ावत, एडवोकेट रमेश दशोरा, बाबरमल मीणा सहित अन्य लोग साथ थे।

लोकतंत्र बचाने के लिए परिवर्तन आवश्यक-खड़गेे

नामांकन सभा में कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने माेदी पर जमकर साधा निशाना साधा तथा प्रधानमंत्री को बताया झूठों का सरदार बताया। खड़गे ने कहा कि देश की भाजपा सरकार ने संविधान और लोकतंत्र को खत्म करने की ठान ली है और अब इस चुनाव में भाजपा को हरा कर ही लोकतंत्र को बचाया जा सकता है। उन्होंने चित्तौड़गढ़ की धरती को शक्ति, भक्ति और वीरता की धरती बताते हुए कहा कि यहा पर स्वाभिमान के लिए लड़ने वाले लोग है। उन्होंने आजादी के आंदोलन को याद करते हुए कहा कि कांग्रेस के पास एक लम्बी फेहरिस्त है, जिन्होंने आजादी के लिए बलिदान दिये है लेकिन भाजपा और आरएसएस के लोग एक नाम बता दे।

उन्होंने नेहरू और बाबा साहेब अम्बेडकर को याद करते हुए कहा कि उन्होंने एक संविधान दिया और उसी लोकतंत्र की वजह से आज मोदी प्रधानमंत्री के पद पर बैठे है लेकिन वे ही लोकतंत्र की जड़े काटना चाहते है। कांग्रेस के खातों को सीज करने के मामले में खड़गे ने कहा कि 135 करोड़ रुपए कांग्रेस के खाते से निकाल कर मोदी ने चंदा चोरी की है। लेकिन खुद की पार्टी के चंदे का कोई हिसाब नहीं है। परिवारवाद के मामले में प्रधानमंत्री मोदी पर कटाक्ष करते हुए खड़गे ने कहा कि 1989 के बाद कोई एक भी गांधी परिवार का नाम बता दे जो कहीं मंत्री या प्रधानमंत्री भी रहा हो। उन्होंने साेनिया गांधी का उल्लेख करते हुए कहा कि उस महिला ने प्रधानमंत्री पद को ठुकराते हुए एक अर्थशास्त्री को देश का प्रधानमंत्री बना दिया। राहुल गांधी देश को एकजुट करने के लिए कन्याकुमारी से कश्मीर तक पैदल यात्रा करते है लेकिन भाजपा के लोग देश को तोड़ने में लगे है। प्रधानमंत्री मोदी को झूठों का सरताज बताते हुए कहा कि जो पहले गारंटिया दी वो सारी झूठी निकली। दो करोड़ नौकरियां, किसानों की आय दुगुनी करने और 15 लाख रूपये खाते में आने की बातें कहां गई? उन्होंने कहा कि जिस देश में सुई नहीं बनती थी कांग्रेस ने राकेट बनाकर किर्तीमान स्थापित किये है लेकिन मोदी बस ड्रामा करके देश की जनता को बरगला रहे हैं। सभा को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा और पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने भी संबोधित किया।

हिंदुस्थान समाचार/अखिल/ईश्वर

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story