नववर्ष के स्वागत को सजने लगा उदयपुर शहर

नववर्ष के स्वागत को सजने लगा उदयपुर शहर
नववर्ष के स्वागत को सजने लगा उदयपुर शहर


उदयपुर, 03 अप्रैल (हि. स.)। भारतीय नववर्ष समाजोत्सव समिति व नगर निगम उदयपुर के तत्वावधान में चैत्र प्रतिपदा पर भारतीय नववर्ष विक्रम संवत-2081 के स्वागत में 9 अप्रैल को होने वाली विशाल शोभायात्रा और धर्मसभा के लिए शहर भगवा पताकाओं से सजना शुरू हो गया है। इस बीच, शहर के मंदिर-चौक-चौंतरियों पर चल रही दशामाता की कथाओं तक भी नववर्ष शोभायात्रा में शामिल होने के निमंत्रण पहुंचना शुरू हो गए हैं।

समिति के संयोजक रविकांत त्रिपाठी ने बताया कि भारतीय नववर्ष विशाल शोभायात्रा की तैयारियों के तहत शहर में विभिन्न जगह पताकाएं लगाई गईं। शहर में जगह-जगह पताकाएं और फर्रियां लगाने का क्रम शुरू हो गया है। भारतीय नववर्ष को पूरा उदयपुर शहर उत्सव के रूप में मनाने की तैयारी में जुटा हुआ है।

इस बीच, मातृशक्ति की अलग-अलग टोलियां अलग-अलग क्षेत्रों में महिला संगठनों सहित बुजुर्ग महिलाओं का आशीर्वाद लेते हुए कलश यात्रा व डांडिया दल में सम्मिलित होने का निमंत्रण दे रही हैं। जगह-जगह चल रही दशामाता की व्रत कथाओं में माताओं को कलश यात्रा का न्यौता दिया गया।

समिति के कार्यकार्ताओं ने समाज के प्रबुद्धजनों व पदाधिकारियों को कर-पत्रक वितरित किए। समाज की मातृशक्ति को कलश व श्रीफल भेंट कर कलश यात्रा में आने का निमंत्रण दिया।

उल्लेखनीय है कि भारतीय नववर्ष समाजोत्सव समिति और नगर निगम के तत्वावधान में 9 अप्रैल दोपहर 3 बजे विशाल शोभायात्रा नगर निगम प्रांगण से शुरू होगी। इसी के साथ, कलश यात्रा फतह स्कूल से प्रारंभ होगी। सभी शोभायात्राएं एक होकर भंडारी दर्शक मंडप पहुंचेगी। वहां धर्मसभा होगी। धर्म सभा में सीहोर धाम के प. प्रदीप मिश्रा का उद्बोधन रहेगा।

हिन्दुस्थान समाचार/सुनीता/संदीप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story