पशुपालकों को आवश्यक दवाइयां उपलब्ध करवाई जा रही हैं- पशुपालन मंत्री

पशुपालकों को आवश्यक दवाइयां उपलब्ध करवाई जा रही हैं- पशुपालन मंत्री
पशुपालकों को आवश्यक दवाइयां उपलब्ध करवाई जा रही हैं- पशुपालन मंत्री


जयपुर, 4 जुलाई (हि.स.)। पशुपालन मंत्री जोराराम कुमावत ने गुरुवार को विधानसभा में कहा कि राज्य में संचालित पशु चिकित्सालयों व उप केन्द्रों में पशुपालकों को आवश्यक दवाइयां निशुल्क उपलब्ध करवाई जा रही हैं। शेष दवाइयों के लिए टेण्डर प्रक्रिया में हैै। राज्य सरकार द्वारा दवाइयों की खरीद के लिए 60 करोड़ रुपये का बजट प्रावधान किया गया है।

पशुपालन मंत्री प्रश्नकाल के दौरान सदस्यों द्वारा इस संबंध में पूछे गए पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि कुल 137 दवाइयां निःशुल्क दवाइयों की सूची में शामिल हैं। चुनावों की आचार संहिता के चलते दवाइयों की उपलब्धता में कठिनाई के बावजूद पशु चिकित्सा हेतु आपातकालीन दवाइयां उपलब्ध कराई गई हैं।

इससे पहले विधायक रूपिन्द्र सिंह कुन्नर के मूल प्रश्न के लिखित जवाब में कुमावत ने बताया कि पशु चिकित्सा संस्थाओं द्वारा पशुपालकों के रोगी पशुओं के उपचार के लिए पशु चिकित्सा संस्थाओं की मांग एवं वित्तीय संसाधनों की उपलब्धता अनुसार निःशुल्क औषधियां उपलब्ध कराई जाती हैं।

उन्होंने बताया कि वर्तमान में उपखंड पदमपुर एवं श्रीकरणपुर क्षेत्र की पशु चिकित्सा संस्थाओं में पशु चिकित्सा के लिए आपातकालीन औषधियां उपलब्ध हैं।

कुमावत ने कहा कि उपखण्ड पदमपुर तथा उपखण्ड श्रीकरणपुर के प्रथम श्रेणी पशु चिकित्सालयों में पशुओं के स्वास्थ्य की जांच के लिये पशु रोग निदान प्रयोगशाला (लैब) स्वीकृत की गई है, जिन पर प्रयोगशाला के लिए आवश्यक उपकरण उपलब्ध करवाये जा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि पशु रोग निदान कार्य के लिए वर्तमान में जिला मुख्यालय श्रीगंगानगर में एक जिला रोग निदान इकाई स्वीकृत एवं क्रियाशील है। वर्तमान में प्रत्येक पशु चिकित्सालय एवं पशु चिकित्सा उपकेन्द्र पर पशु रोग निदान प्रयोगशाला की आवश्यकता नहीं है।

हिन्दुस्थान समाचार/ ईश्वर/संदीप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story