राजस्थान के दस शहरों का तापमान 10 डिग्री से नीचे, फतेहपुर दो और माउंट-चूरू का पारा चार डिग्री

राजस्थान के दस शहरों का तापमान 10 डिग्री से नीचे, फतेहपुर दो और माउंट-चूरू का पारा चार डिग्री


जयपुर, 24 नवंबर (हि.स.)। राजस्थान में कड़ाके की सर्दी का दौर शुरू हाे गया। राज्य में बुधवार की रात तीन शहर फतेहपुर, चूरू और माउंट आबू में सीजन की सबसे सर्द रात रही। सीकर के फतेहपुर में तापमान 2.4 तक पहुंच गया। जबकि माउंट का तापमान 4 और चूरू का 4.1 डिग्री मापा गया। चूरू में बीती रात पिछले 10 साल में नवंबर में दूसरी सबसे सर्द रात रही। उत्तरी राजस्थान के श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू, सीकर के कुछ क्षेत्रों में सुबह-सुबह हल्का कोहरा छाया रहा। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक तापमान में गिरावट आगे एक-दो दिन जारी रह सकती है।

राजस्थान में चल रही सर्द हवाओं के कारण तापमान में लगातार गिरावट के साथ कंपकंपी छूटने लगी है। आलम यह है कि शेखावाटी अंचल नवंबर के आखिरी सप्ताह से पहले पूरे प्रदेश में ठंडी जगहों में शुमार हो चुका है। मौसम विभाग के मुताबिक इस सप्ताह राजधानी जयपुर समेत अन्य जिलों में मौसम साफ बना रहेगा। दिन में धूप खिलने का अनुमान है। वहीं सुबह-शाम और रात में गलन बढ़ेगी। जयपुर मौसम केंद्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि उत्तर भारत के जम्मू-कश्मीर, हिमाचल, लद्दाख में पिछले दिनों पश्चिमी विक्षोभ के बाद बर्फबारी और बारिश हुई। बीते सप्ताह पश्चिमी विक्षोभ जाने के बाद दूसरा नया तंत्र अभी तक नहीं आया है, जिसके कारण उत्तरी हवाओं का असर बढ़ गया है। उत्तरी हवाएं पंजाब, दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान की तरफ आनी शुरू हो गई। वहीं इन राज्यों में मौसम भी बिल्कुल साफ रहने लगा है, जिससे तापमान गिरने लगा है।

जयपुर मौसम केन्द्र से जारी रिपोर्ट के अनुसार कोटा, चूरू, अजमेर में रात का न्यूनतम तापमान सामान्य से 6 डिग्री सेल्सियस तक नीचे चला गया है। गलनभरी कड़ाके की सर्दी का सबसे ज्यादा असर शेखावाटी के सीकर व चूरू में रहा। यहां तापमान 5 डिग्री सेल्सियस से नीचे आ गया। चूरू में रात का तापमान 4.1 डिग्री सेल्सियस रहा, जो 2017 के बाद नवंबर के महीने का सबसे कम तापमान रहा। साल 2017 में भी नवंबर का सबसे कम तापमान 4.1 डिग्री सेल्सियस ही रहा था। सीकर में तेज सर्दी के बीच हल्का कोहरा भी रहा। यहां स्थित हर्ष पर्वत माला के नीचे बसे गांव और कस्बे के ऊपर हल्की कोहरे की चादर सुबह छाई रही। हालांकि मौसम साफ होने और धूप निकलने के बाद ये कुछ समय बाद हट गई। इसी तरह श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू और झुंझुनूं के ग्रामीण क्षेत्रों में भी सुबह हल्का कोहरा रहा।

देश के उत्तरी व पहाड़ी इलाकों में हो रही बर्फबारी एवं उत्तरी हवाएं प्रभावी होने से हिल स्टेशन माउंट आबू में भी सर्दी का असर तेज हो गया है। शहर में गुरुवार को एक डिग्री की गिरावट के साथ पारा 4 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया, जो इस सीजन में सबसे कम एवं सबसे सर्द रात का तापमान रहा है। शहर में सोमवार को तापमान 5.5 डिग्री सेल्सियस था जो मंगलवार को 2.5 डिग्री की बढ़ोतरी के साथ 8 डिग्री पहुंचा था। बुधवार को 3 डिग्री गिरावट के साथ पारा 5 डिग्री सेल्सियस मापा गया। शहर में लगातार तापमापी में गिरावट होने से मौसम ठंडा बना हुआ है। मौसम में ठंडक बढ़ने से आम जनजीवन प्रभावित हुआ है।

हिल स्टेशन माउंट आबू में पड़ रही अच्छी सर्दी के साथ ही सवेरे देर तक कोहरा भी छाया रहा। गुरुवार को सवेरे 8 बजे तक वादियों तथा गुरु शिखर जाने वाले मार्ग, माउंट आबू रोड मार्ग पर कोहरा रहा। सवेरे 9 बजे धूप खिलने पर लोगों को सर्दी से हल्की राहत मिली। शहर में सवेरे 7 बजे तक कार के शीशे, गाड़ियों की छत, बाइक की सीट, फसल, पौधे की पत्तियों पर ओंस की बूंदें नजर आई। मौसम में लगातार बढ़ रही सर्दी और हवाओं के चलने से यहां पहुंचने सैलानी व आमजन गर्म कपड़ों का सहारा ले रहे हैं।

राजस्थान में इस सीजन में पहली बार सभी शहरों में रात का तापमान 15 डिग्री सेल्सियस से नीचे रहा। बीती रात राज्य के जयपुर में 11.2, बाड़मेर में 13.9, जैसलमेर में 13.5, जोधपुर में 10.8, बीकानेर में 10.8, श्रीगंगानगर में 10.7, टोंक में 12, बूंदी में 11.2, डूंगरपुर में 11.6 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान रहा।

हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story