राजस्थान में अगले 48 घंटे के लिए तेज सर्दी का अलर्ट, गलन भरी सर्दी से छूट रही धूजणी

राजस्थान में अगले 48 घंटे के लिए तेज सर्दी का अलर्ट, गलन भरी सर्दी से छूट रही धूजणी


जयपुर, 25 नवंबर (हि.स.)। राजस्थान में सर्दी रिकॉर्ड तोड़ रही है। रात का पारा लगातार गिर रहा है। पत्तों पर ओस की बूंदें बर्फ बनने लगी हैं। साथ ही, कई शहरों में कोहरा भी छाने लगा है। मौसम विभाग के अनुसार अभी धीरे-धीरे सर्दी के तेवर और तेज होंगे। अगले 48 घंटे में पारा दो डिग्री तक गिरने का अलर्ट जारी किया गया है।

मौसम विभाग के अनुसार बीती रात कई शहरों में न्यूनतम तापमान में गिरावट होने से यहां सर्दी बढ़ गई। कोटा, बूंदी, बारां समेत कई शहरों में तापमान गिरकर 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया। कोटा में बीती रात पिछले 11 साल में नवंबर की सबसे सर्द रात रही, जहां न्यूनतम तापमान 8.5 डिग्री सेल्सियस रहा। हाड़ौती (कोटा, बूंदी, झालावाड़, बारां) अंचल के अलावा हिल स्टेशन माउंट आबू में भी आज पारा दो डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। शेखावाटी के सीकर, चूरू में तापमान में बढ़ोतरी होने से लोगों को सर्दी से हल्की राहत मिली। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक अगले एक सप्ताह तक प्रदेश में मौसम शुष्क रहेगा और सर्द हवा का असर रहेगा, जिससे तापमान में गिरावट होने की संभावना है।

जयपुर में सुबह तेज सर्दी रही और यहां न्यूनतम तापमान 11.2 डिग्री सेल्सियस रहा। हालांकि, सुबह सूरज निकलने के साथ ही सर्दी का असर कम हो गया और तेज धूप निकलने लगी। जयपुर में लगातार दूसरे दिन भी रात का तापमान 11.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। प्रदेश के अलवर, पाली, जोधपुर और टोंक में भी पिछले दो दिन से तापमान स्थिर बना हुआ है। वहीं, श्रीगंगानगर, धौलपुर, बाड़मेर, उदयपुर, सिरोही, डूंगरपुर, बारां में बीती रात न्यूनतम तापमान में कल के मुकाबले एक डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट हुई।

नवंबर में इस बार कोटा में रिकॉर्ड तोड़ सर्दी पड़ी है। यहां कल रात न्यूनतम तापमान 8.5 डिग्री सेल्सियस रहा। इससे पहले कोटा साल 2020 में तापमान 9.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ था, जो नवंबर का पिछले 11 साल में सबसे कम तापमान था, लेकिन ये रिकॉर्ड भी आज टूट गया। कोटा में 2012 से अब तक नवंबर में केवल एक बार ही तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे गया है। पिछले एक सप्ताह से लगातार शेखावाटी में गिर रहे तापमान पर आज ब्रेक लगा। चूरू, फतेहपुर, सीकर में आज तापमान में 2 डिग्री सेल्सियस तक का इजाफा हुआ, जिससे लोगों को सर्दी से मामूली राहत मिली। सुबह-शाम अब भी तेज गलन भरी सर्दी ने वहां लोगों की धूजणी छूटा रखी है। खुले में रहने वाले लोगों के लिए यहां सुबह-शाम अलावा ही सर्दी से बचने का सहारा बने हुए है।

राज्य में भले ही सुबह-शाम गलन भरी सर्दी पड़ रही हो, लेकिन दिन में सभी जगह मौसम साफ रहने से तेज धूप निकल रही है। हालांकि, तापमान में इससे कोई खास उतरा-चढ़ाव नहीं है। वर्तमान में पिलानी, बाड़मेर, जैसलमेर, श्रीगंगानगर, सिरोही में ही दिन का अधिकतम तापमान 30 से 31 डिग्री सेल्सियस के बीच है, जबकि शेष जिलों में दिन का अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस से नीचे है।

जयपुर मौसम केन्द्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि अगले एक सप्ताह तक पूरे राजस्थान में मौसम बिल्कुल साफ रहेगा और उत्तरी हवाओं का प्रभाव बना रहेगा। इससे अगले 24 से 48 घंटों के दौरान कई शहरों में पारा 1 से 2 डिग्री सेल्सियस और नीचे आ सकता है। उन्होंने बताया कि सीकर, चूरू, झुंझुनूं में अगले एक-दो दिन में हल्की सर्द हवा भी चल सकती है, जिससे यहां दिन में भी लोगों को ठंड महसूस होने लगेगी।

बीती रात अजमेर में 10.8, भीलवाड़ा में 7.4, जयपुर में 11.2, पिलानी (झुंझुनूं) में 8.1, सीकर में 8, कोटा में 8.5, बूंदी में 9.4, उदयपुर में 8.8, बाड़मेर में 13, पाली में 11.4, जैसलमेर में 14.3, जोधपुर में 10.8, बीकानेर में 11.6, चूरू में 5, श्रीगंगानगर में 8.9, धौलपुर में 8.6, नागौर में 8.2, टोंक में 11.7, बारां में 7.6, चित्तौड़गढ़ में 5.9, डूंगरपुर में 10.4, हनुमानगढ़ में 6.8, जालोर में 7.7, सिरोही में 12.2, करौली में 6.7, फतेहपुर (सीकर) में 3.7, माउंट आबू में 2 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान रहा।

हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story