माइनर मिनरल के 630 खनन प्लाटों की भारत सरकार के पोर्टल पर 6 दिसंबर से होगी ई-नीलामी

माइनर मिनरल के 630 खनन प्लाटों की भारत सरकार के पोर्टल पर 6 दिसंबर से होगी ई-नीलामी


जयपुर, 24 नवंबर (हि.स.)। राज्य के माइंस विभाग ने 21 जिलों के 35 स्थानों पर बड़ी संख्या में माइनर मिनरल के खनन प्लाटों की ई-नीलामी प्रक्रिया शुरु कर दी गई है। दिसंबर के पहले सप्ताह से 17 फरवरी 23 तक भारत सरकार के ई-प्लेटफार्म पर प्रदेश में माइनर मिनरल के 630 खनन प्लॉटों की ई-नीलामी होगी।

अतिरिक्त मुख्य सचिव माइंस डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि माइंस विभाग ने माइनर मिनरल ग्रेनाइट, क्वार्टज, फेल्सपार, सेंडस्टोन, सिलिकासेंड, मेसेनरी स्टोन, चाइना क्ले, मारबल आदि के नीलामी के लिए 630 प्लॉट तैयार किए हैं। सर्वाधिक 153 माइनर मिनरल ब्लॉकों की नीलामी बूंदी जिले में की जाएगी। जोधपुर के कास्टी बावड़ी में सेंडस्टोन व मेसेनरी स्टोन के 69 व लोहावट के जालोड़ा ओसियां के हरिपुरा व बावड़ी के कास्टी में सेंडस्टोन 49 प्लॉटों की नीलामी होगी। इसी तरह से पाली के रायपुर भंवरिया में मेसेनरी स्टोन के 39 प्लॉट, धौलपुर में सरमथुरा के मठ पिपरोध, तिलउआ, बाड़ी के सनौरा व नकसौदा, बसेड़ी के नादनपुर व ताजपुर में सेंडस्टोन के 75 प्लॉटों, नागौर में मुण्ड़वा के असावरी, खुडखुडकलां, नागौर की खारीकर्मसोता, मेड़ता के चांदावता में मेसेनरी स्टोन के 48, चित्तोड़गढ़ में गंगरार के साड़ास मेें ग्रेनाइट के 1 व भदेसर के भालोट में मारवबल के 6 प्लॉट, बूंदी में तालेड़ा के धनेश्वर, थड़ी, बूंदी के गोलपुरा में सेंडस्टोन के 105 व तालेड़ा के लांबाखोह में मेसेनरी स्टोन व सेंडस्टोन के 50 प्लॉटों की ई-नीलामी की जाएगी। विभाग द्वारा तैयार किए गए प्लॉटों में कोटा में दीगोद पांचडा के मेसेनरी स्टोन के 1 प्लॉट, राजसमंद में देवगढ़ के बाधाखेड़ा, नराणा में ग्रेनाइट के 12 व आमेट के कांजी गुड़ा खुर्द में मेसेनरी स्टोन के 1 प्लॉट, झुन्झुनू के खेतड़ी गाडराटा में मेसेनरी स्टोन के 3 प्लॉट, अजमेर में नसीराबाद के तिहारी, बनेवाड़ी में क्वार्टज फेल्सपार मिनयानी नसीराबाद में मेसेनरी स्टोन के एक प्लॉट, भीलवाड़ा में आसींद में ग्रेनाइट के 14 व जहाजपुर के बिलेठा में चाइना क्ले, सिलिकासेंड व मेसेनरी स्टोन के दो प्लॉट नीलाम होंगे।

इसी तरह अलवर में रामगढ़ के जुगरावर में मेसेनरी स्टोन के एक, सीकर में खण्डेला के कोटड़ी लुहारवास में मेसेनरी स्टोन के एक, डूंगरपुर में घूघरा में मेसेनरी स्टोन के एक, बीकानेर में कोलायत के मोडिया मानसर में बजरी के 13, जैसलमेर में पोखरण के डिडानियां में मेसेनरी स्टोन के 32, जाजिया, सुलतानपुरा, काहला में मारबल के 14 प्लॉट, भणियाणा के भाखरी में सेंडस्टोन के 31, जालोर में रानीवाड़ा के कोडी चौपावतान में मेेसेनरी स्टोन के एक, सिरोही के कूमा में ग्रेनाइट के 2, मोहब्बतनगर में मेसेनरी स्टोन के 14, बाड़मेर में शिव कोटड़ा के मेसेनरी स्टोन के 20 , सिलिकासेंड के 4, प्रतापगढ़ धरियावाद के मारबल के एक, माण्डवी में मेसेनरी स्टोन के दो प्लाट नीलाम होंगे।

डॉ. अग्रवाल ने बताया कि प्रतापगढ़ के कटारों का खेड़ाबी में मेसेनरी स्टोन के एक, डूंगरपुर के देवल व घूघरा में मेसेनरी स्टोन के 3 और उदयपुर के खेरवाड़ा बंजारियामें मेसेनरी स्टोन के एक प्लॉट डोमिसाइल शिड्यूल ट्राइब व्यक्तियों के लिए आरक्षित किए गए है। राज्य में खनिज प्लॉटों की बड़े स्तर पर नीलामी की जा रही है। इससे वैध खनन, प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रोजगार, निवेश के अवसर विकसित होंगे।

निदेशक माइंस संदेेश नायक ने बताया कि ई नीलामी के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि प्लॉटां की ई नीलामी 6 दिसंबर से आंरभ होगी और 17 फरवरी 23 तक जारी रहेगी। नायक ने बताया कि नीलामी कार्यकम को विभागीय वेबसाइट व भारत सरकार के पोर्टल पर प्रदर्शित कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि नीलामी में भाग लेने के इच्छुक पोर्टल पर विस्तृत जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/ ईश्वर

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story