राजस्थान में सभी एकजुट, 2023 में सरकार बनाने के लिए कर रहे काम : पायलट

राजस्थान में सभी एकजुट, 2023 में सरकार बनाने के लिए कर रहे काम : पायलट


जयपुर, 23 नवंबर (हि.स.)। राहुल गांधी के नेतृत्व में चल रही कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा के दिसंबर के पहले सप्ताह में राजस्थान में प्रवेश करेगी। यात्रा की तैयारियों को लेकर प्रदेश कांग्रेस की ओर से बुधवार को अस्पताल रोड स्थित पार्टी के वॉर रूम में अहम बैठक हुई। बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद डोटासरा ने यात्रा की तैयारियों को लेकर गठित कोर्डिनेशन कमेटी के सदस्यों के साथ तैयारियों को लेकर मंथन किया गया।

बैठक के बाद पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने मीडिया से बातचीत की। उन्होंने कहा कि राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा का अद्भुत स्वागत किया जाएगा। भारत जोड़ो यात्रा कोई राजनीतिक यात्रा नहीं है बल्कि यह देश को और लोगों को जोड़ने की यात्रा है। मुख्यमंत्री बनाने के सवाल पर पायलट ने बड़े ही गोलमोल अंदाज में जवाब दिया। उन्होंने कहा कि 2013 में हुए चुनाव में कांग्रेस पार्टी 21 सीटों पर सिमट गई थी। लेकिन, उसके बाद पांच साल कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ताओं ने मिलकर मिलजुल कर काम किया और सभी के सहयोग से सरकार बनी है। राजस्थान में सभी एकजुट हैं और 2023 में फिर से पार्टी की सरकार रिपीट हो सके इसके लिए अभी से ही काम कर रहे हैं।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को गुर्जर नेता विजय बैंसला की ओर से रोके जाने की धमकी पर पायलट ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा की सफलता से भाजपा नेता विचलित और व्यथित है और यात्रा में रुकावट डालना चाहते हैं लेकिन राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा ऐतिहासिक होगी। प्रदेश की जनता और पार्टी के कार्यकर्ता भारत जोड़ो यात्रा अभूतपूर्व स्वागत करने के लिए तैयार बैठे हैं और चाहते हैं कि राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा गुजरे। राजस्थान पहला ऐसा राज्य है जहां कांग्रेस शासित प्रदेश से भारत जोड़ो यात्रा गुजरेगी इसलिए राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा का अद्भुत स्वागत किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि राजस्थान बॉर्डर पर कांग्रेस कार्यकर्ता और आमजन यात्रा का स्वागत करेंगे। सचिन पायलट ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा कोई राजनीतिक यात्रा नहीं है बल्कि यह देश को और लोगों को जोड़ने की यात्रा है। यह केवल मन की बात और रेडियो पर बात करने की भी यात्रा नहीं है, लोगों के दुख दर्द को दूर करने की यात्रा है। यही वजह है कि लोग चलकर इस यात्रा में शामिल हो रहे हैं और अपनी व्यथा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को बता रहे हैं। पायलट ने कहा कि राजस्थान में 521 किलोमीटर की यात्रा होगी जो 21 दिनों में पूरी होगी और अलवर जिले में पार्टी की बड़ी जनसभा होगी जहां पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी कांग्रेस कार्यकर्ताओं और आमजन को संबोधित करेंगे।

पूर्व उप मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले कहा जा रहा था कि दक्षिण भारत की तरह उत्तर भारत में भारत जोड़ो यात्रा को लोगों का समर्थन नहीं मिलेगा लेकिन ऐसा नहीं है उत्तर भारत में भी यात्रा को लोगों का जबरदस्त समर्थन मिल रहा है। पायलट ने विजय बैंसला के बयान पर कहा कि साल 2013 में हुए चुनाव केंद्र कांग्रेस पार्टी की सीटों पर सिमट गई थी लेकिन उसके बाद 5 साल कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ताओं ने मिलकर मिलजुल कर काम किया और सभी के सहयोग से सरकार बनी है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में सभी एकजुट हैं और 2023 में फिर से पार्टी की सरकार रिपीट हो सके इसके लिए अभी से ही काम कर रहे हैं।

गौरतलब है कि गुर्जर नेता विजय बैंसला ने पूर्व में बयान देते हुए कहा था कि गुर्जर समाज समाज की समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो राहुल गांधी की यात्रा को आगे बढ़ने नहीं दिया जाएगा। वहीं उन्होंने पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाए जाने को लेकर भी बयान दिया था। विजय बैंसला के बयान को लेकर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा और परसादी लाल मीणा ने भी पलटवार करते हुए कहा था कि किसी में भी यात्रा को रोकने की हिम्मत नहीं हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story