घर की दशा सुधारने और पति के दीर्घायु की कामना को लेकर मनाया दशा माता का पर्व

घर की दशा सुधारने और पति के दीर्घायु की कामना को लेकर मनाया दशा माता का पर्व


जोधपुर, 04 अप्रैल (हि.स.)। प्रदेश की धार्मिक व सांस्कृतिक नगरी सूर्यनगरी में गुरुवार को सुहागिन महिलाओं ने दशा माता का पर्व श्रद्धापूर्वक मनाया। इस अवसर पर महिलाओं द्वारा दशामाता का सामूहिक पूजन करने के अलावा व्रत भी किया गया।

सुहागिन महिलाओं ने आज दशा माता का पर्व परंपरानुसार मनाया। उन्होंने पीपल वृक्ष की पूजा कर खुशहाली की कामना की। इस पर्व पर महिलाओं ने दशा माता व्रत की कहानी सुनकर जीवन में आस्था रखने की सीख ली। साथ ही पीपल के वृक्ष में जल चढ़ाकर पति की दीर्घायु व परिवार की खुशहाली की कामना की। इस दौरान महिलाओं ने कच्चे सूत के धागे के दस गांठ लगाकर गले में पहनकर पौराणिक परंपराओं का निर्वाहन किया। शहर के अनेक धार्मिक स्थलों में महिला श्रद्धालुओं की भीड़ रही। मंदिरों में भी धार्मिक कार्यक्रमों की गूंज रही। बता दे कि चैत्र माह के कृष्ण पक्ष की दशमी के दिन महिलाएं दशा माता से आपने परिवार की दिशा-दशा को सही रखने की कामना करते हुए दशा माता का व्रतकर पूजा अर्चना करती है। महिलाओं का कहना है कि व्रत करने से घर एवं परिवार से दुखों का साया एवं दरिद्रता दूर हो जाती है।

हिन्दुस्थान समाचार/सतीश/ईश्वर

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story